तीसरी लहर से बच्‍चों को बचाने के लिए योगी सरकार ने शुरू की तैयारी, मेरठ में 70 बेड का आईसीयू अस्‍पताल बनेगा

सीएम ने प्रत्‍येक अस्‍पताल में आक्‍सीजन प्‍लांट लगाने के निर्देश दिए

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना की तीसरी लहर से बच्‍चों को बचाने के लिए प्रदेश सरकार ने कड़े प्रयास शुरू कर दिए हैं। पिछले दिनों मेरठ पहुंचे सीएम योगी ने मेरठ में बच्‍चों के लिए 70 बेड का आईसीयू तैयार करने के निर्देष दिए। सीएम योगी ने कहा कि हर अस्‍पताल में आक्‍सीजन प्‍लांट भी विकसित किए जाएंगे। इसके अलावा अन्‍य जिलों में भी बच्‍चों के लिए आईसीयू बेड वाले अस्‍पताल तैयार किए जाएंगे।

Devi Maa Dental

मेरठ में बच्चों के लिए 70 बेड का आईसीयू तैयार होगा। एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज में 50, पीएल शर्मा जिला अस्पताल में 10 व डफरिन महिला जिला अस्पताल में भी 10 वार्ड का पीडियाट्रिक आईसीयू बनाया जाएगा। डीएम के बालाजी के अनुसार इन पीआईसीयू में कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने पर उन्हें तत्काल इलाज की सुविधा रहेगी।

सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट

Bansal Saree

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 17 मई को मेरठ में अफसरों की मीटिंग में कहा था कि कोरोना की तीसरी लहर के लिए अभी से तैयारी रखें। सीएम के निर्देश का ही असर है कि बच्चों के लिए अलग-अलग अस्पतालों में पीआईसीयू तैयार करवाए जाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। साथ ही हर बड़े अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए भी तैयारी शुरु हो गई है।

हर सीएचसी पर बेड की संख्या बढ़ाई जा रही है। हस्तिनापुर सीएचसी पर कोविड वार्ड शुरू हो चुका है। विधायक दिनेश खटीक ने वार्ड का शुभारंभ किया। जल्द सभी 12 सीएचसी पर कोविड वार्ड बनेंगे। मेडिकल कॉलेज में कोविड बेड की संख्या 500 कर दी गई है। हर सीएचसी पर ऑक्सीजन प्लांट भी लगाने की तैयारी है।