विधानसभा जाते वक्‍त विधायक केसर ने कहा था- मास्‍क...अब कोविड खत्‍म हो गया है, अब कोविड कहां रखा है ?

स्‍वर्गीय विधायक केसर सिंह के वायरल वीडियो पर हो रही चर्चा

 | 

हलके में ना लें कोरोना संक्रमण के मामले, पूरी सावधानी बरतें 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना संक्रमण को कतई हलके में ना लें। आप तभी तक सुरक्षित हैं जब तक आप उसकी जद में नहीं आए हैं। बरेली से नवाबगंज के विधायक केसर सिंह गंगवार का वाकया इसकी एक बानगी भर है। इसी तरह के न जाने कितने मामले सामने आए हैं जिनमें कोरोना संक्रमण को लोगों ने गंभीर नहीं माना लेकिन जब खुद संक्रमण की जद में आए तो खुद को बचा नहीं पाए।

Devi Maa Dental

बरेली जिले के नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से विधायक केसर सिंह गंगवार की कोरोना संक्रमण से हुयी मौत के बाद विधायक केसर सिंह का एक वीडियो वायरल है। वायरल वीडियो में केसर सिंह गंगवार विधानसभा में प्रवेश कर रहे हैं। उस समय विधायक केसर सिंह गंगवार ने मास्‍क नहीं लगाया हुआ था। इसी दौरान वहां मौजूद एक चैनल के रिपोर्टर ने विधायक केसर सिंह गंगवार से पूछा था कि आपका मास्‍क कहां है ?

जिस पर विधायक केसर सिंह ने जवाब दिया था मास्‍क... अब कोविड खत्‍म हो गया है। अब कोविड कहां रखा है ? इतना कहकर विधायक केसर हाथ में लिए मोबाइल फोन पर बात करते हुए आगे बढ़ गए थे।

Bansal Saree

किसी ने नहीं सोचा होगा कि विधायक केसर सिंह गंगवार इस तरह दुनियां से अचानक रूखसत हो जाएंगे। ना ही उनकी उम्र थी फिर भी कोरोना संक्रमण की जद में आने के कुछ समय बाद ही विधायक केसर सिंह कोरोना संक्रमण से हार गए।

24 घंट तक तो ICU ही नहीं मिला था विधायक को

विधायक केसर सिंह गंगवार की अचानक हालत बिगड़ने पर बीते 10 अप्रैल को बरेली के राम मूर्ति मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था। वीडियो उसके पहले का बताया जा रहा है। जहां उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। लेकिन वहां पर बेहतर इलाज न मिलने के कारण उन्हें नोएडा के यथार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन बुधवार की दोपहर 3:15 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। विधायक के परिवार का आरोप है कि केसर सिंह को 24 घंटे तक एक ICU बेड नहीं मिल पाया था। नोएडा के अस्पताल में इमरजेंसी में भर्ती करना पड़ा था।

विधायक के बेटे विशाल गंगवार ने भी योगी सरकार पर सवाल खड़े किए थे। कहा था कि यूपी सरकार अपने ही विधायक का इलाज नहीं करा पा रही है। मुख्यमंत्री कार्यालय पर बार-बार कॉल करने के बाद भी कोई फोन नहीं उठा रहा है।

केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री को भी लिखी थी चिट्ठी

संक्रमित होने के बाद विधायक केसर सिंह ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन को भी चिट्ठी लिखी थी। जिसमें लिखा था कि बरेली के श्रीराम मूर्ति स्मारक अस्पताल में इलाज चल रहा है। डॉक्टरों ने गहन चिकित्सा और प्लाज्मा थेरेपी की सलाह दी है। ऐसे में उन्हें तत्काल दिल्ली के मैक्स अस्पताल में एक बेड दिलवा दें। बावजूद इसके विधायक को मैक्स अस्पताल में जगह नहीं मिली। उन्हें यथार्थ अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था। यह चिट्ठी विधायक ने 18 अप्रैल को लिखी थी।