नियम विरूद्ध चुनाव प्रचार रोकने पर पुलिस से भिड़े बिकरू गांव के ग्रामीण

विकास दुबे कांड के बाद मशहूर हुआ बिकरू गांव

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। विकास दुबे कांड के बाद मशहूर हुए यूपी के गांव बिकरू में एक बार फिर बवाल हो गया। चुनाव प्रचार के दौरान नियमों के पालन को लेकर पुलिस और ग्रामीणों के बीच हाथापायी और मारपीट हो गयी। इस दौरान दरोगा और पुलिसकर्मियों से भी मारपीट की गयी। घटना के बाद चौबेपुर एसओ ने गाड़ी समेत कार्यकर्ता को पकड़ लिया। कार्यकर्ता तीन गाडि़यां लेकर बिना परमीशन क्षेत्र में घूमकर चुनाव प्रचार कर रहा था। पुलिस ने नियमों के विपरीत प्रचार करने से जब उन्‍हें रोका तो वे पुलिस पर हमलावर हो गए और मारपीट शुरू कर दी।

Devi Maa Dental

पकड़े गए युवक को पुलिस ने छुड़ाने के लिए ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। गौरतलब है कि विकास दुबे कांड के बाद कानपुर का बिकरू गांव मशहूर हो गया था। जिसके बाद से यहां लगातार पुलिस और पीएसी तैनात भी थी। पंचायत चुनावों के दौरान अक्‍सर पहले माफिया विकास दुबे की तूती बोलती थी। विकास दुबे चुनावों से पहले ही गांव के सरपंच का फैसला कर देता था ग्रामीण उसी को वोट देकर जिताते थे।