UP: वैक्‍सीनेशन की रफ़्तार बढ़ाने को लेकर योगी सरकार ने कसी कमर, महिलाओं के लिए पिंक बूथ 

14 जून से रेहड़ी, ठेला वाले और दिहाड़ी मजदूरों के लिए भी चलेगा वैक्‍सीनेशन अभियान

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में कोविड वैक्‍सीनेशन की रफ़्तार बढ़ाने के लिए योगी सरकार ने कमर कस ली है। सीएम योगी खुद वैक्‍सीनेशन की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। अस्‍पातलों में आक्‍सीजन प्‍लांट लगवाने से लेकर वैक्‍सीनेशन तक के हालातों की समीक्षा सीएम खुद कर रहे हैं। सरकार ने अब महिलाओं के लिए अलग वैक्‍सीनेशन केन्‍द्र की व्‍यवस्‍था की है। अब पिंक बूथ पर केवल महिलाओं का ही वैक्‍सीनेशन होगा। वहीं 14 जून से सरकार रेहड़ी-ठेला वालों और दिहाड़ी मजूदरों के लिए भी वैक्सीनेशन अभियान चलाएगी, जिसमें अलग-अलग केंद्रों पर उन्हें वैक्सीन लगेगी।

Devi Maa Dental

यूपी सरकार इस वक्त वैक्सीनेशन को गति प्रदान करने पर जोर दे रही है, जिसके लिए विभिन्न आयु वर्ग वालों के लिए तथा महिलाओं के लिए विशेष सेंटर बनाए गए है। इसी क्रम में अब यूपी की योगी सरकार ने दिहाड़ी पर काम करने वाले लोग जैसे की ऑटो, टेंपो, चालक व फल और सब्जी विक्रेताओं के लिए भी केंद्रों की व्यवस्था की है। इन केंद्रों पर 14 जून से वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा। बता दें, ड्राइवरों के लिए आरटीओ कार्यालय और फेरी फल-सब्जी वालों के लिए नगर निगम, पालिका और परिषद के दफ्तरों में बूथ बनाया जाएगा।

महिलाओं के लिए पिंक बूथ
सरकार का लक्ष्य है कि वह इस महीने एक करोड़ वैक्सीन लगाएगी और अपने इस अभियान को लगातार गति देने का प्रयास कर रही है। महिलाओं को वैक्सीन लगाने के लिए पिंक बूथ बनाए गए हैं। इसी तरह से अलग-अलग आयु वर्ग के लोगों के लिए बड़ी संख्या में बूथ बनाए गए हैं। सरकार के मुताबिक, वैक्सीनेशन के काम में यूपी ने गैर भाजपा शासित राज्यों को जैसे की पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और महाराष्ट्र को काफी पीछे छोड़ दिया है।

Bansal Saree