यूपी: महिला ने दो बेटियों को पल्‍लू से बांधकर नदी में कूदकर जान दी, पति से झगड़े के बाद उठाया ऐसा कदम

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। घरेलू कलह ने एक और परिवार उजाड़ दिया। कलह के चलते महिला ने दो बेटियों के साथ नदी में छलांग लगाकर खुदकुशी कर ली। तीनों के शव नदी में तैरते पाए गए। मामला यूपी के गोरखपुर जिले का है। बताया जा रहा है कि सोमवार सुबह ही महिला का पति काम काज के सिलसिले में ट्रेन से अहमदाबाद के लिए रवाना हुआ था। महिला का पति अक्‍सर घर से काम के लिए बाहर ही रहता था। इस दौरान जब भी वह घर आता महिला के साथ किसी और से फोन  पर बात करने को लेकर दोनो के बीच विवाद होता रहता था। पुलिस महिला के पति की तलाश कर रही है।

Devi Maa Dental

घर पर हुआ झगड़ा

सोमवार सुबह पीपीगंज थाना क्षेत्र में जंगल कौड़िया के रोहिन नदी में ग्रामीणों ने एक साथ तीन शव उतराते देख इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर उनकी शिनाख्त कराई। महिला का नाम माया (40 साल) बताया जाता है। वह पीपीगंज इलाके के बगहिभारी निवासी शैलेश कनौजिया की पत्नी थी। इसके अलावा बेटी शिवानी (13 साल) और अर्पिता (9 साल) के रूप में हुई। पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Bansal Saree

बगहीभारी निवासी शैलेश पहले दुबई में रहकर काम करता था। बाद में अहमदाबाद में कारपेंटर की नौकरी करने लगा। उसकी ससुराल मछलीगांव, बरातगाढ़ा के पास है। किसी बात को लेकर विवाद होने पर पत्नी माया मायके चली गई थी। लॉकडाउन में घर आए शैलेश ने पत्नी वापस बुला लिया था। रविवार की रात परिवार में मोबाइल के सिमकार्ड को लेकर विवाद हुआ। ससुर और पति से झगड़ा करने के बाद माया अपनी बेटियों को साथ लेकर कहीं चली गई। पति और बड़े बेटे विशाल ने काफी तलाश की, लेकिन जब कुछ भी पता नहीं लगा तो उन्होंने इसकी सूचना डॉयल 112 पर फोन करके दी।

शैलेश ने सोमवार की सुबह अहमदाबाद जाने के लिए ट्रेन का टिकट लिया था। उसे लगा कि नाराज पत्नी कहीं रिश्तेदारी में चली गई होगी। रात में पत्नी के वापस न आने पर वह सुबह ट्रेन पकड़कर रवाना हो गया। पुलिस ने जब उसे फोन किया तो वह गोंडा पहुंच चुका था। गांव के लोगों ने बताया कि रविवार की दोपहर भी विवाद हुआ था। इसके बाद से महिला बेटियों को साथ लेकर घर से निकल गई।

मां की साड़ी से बंधी थी बेटियां
पीपीगंज एसओ सत्यप्रकाश सिंह ने बताया कि मां और बेटियों की लाश निकलवाई गई। मां ने दोनों बेटियों को साड़ी में बांधकर खुद से लपेट लिया था। आशंका है कि उसने बेटियों के साथ पानी में छलांगकर जान दे दी। नदी में जहां पर लाशें मिली हैं, वहां से कुछ दूरी पर ही नदी का मोड़ है। मोड़ पर नदी का बहाव तेज है। वहां गहराई भी ज्यादा थी।