यूपी: बेटी को प्रेमी की बांहों में देखा तो हैवान बन गए चाचा और पिता, दोनों की कुल्‍हाड़ी से काटकर नृशंस हत्‍या

माता के सामने ही बेटे को काट डाला, खुद की बेटी के भी कर डाले कई टुकड़े

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में दो प्रेमियों को प्‍यार करने की सजा जान देकर चुकानी पड़ी। पिता और चाचा ने मिलकर किशोर और किशोरी को पहले बांधकर बेहरमी से पीटा उसके बाद कुल्‍हाड़ी से काटकर नृशंस हत्‍या कर डाली। दोनों किशोर किशोरी नाबालिग हैं। हत्‍यारे लड़की के पिता और चाचा ने पहले दोनों को रस्‍सी से बांधकर आठ घंटों तक बेरहमी से पीटा। इतने से मन नहीं भरा तो किशोरी के चाचा और पिता ने लड़का व लड़की को कुल्‍हाड़ी से काट डाला और नृशंसता के साथ उनकी हत्‍या कर दी। लड़के के माता पिता भी घटना के वक्‍त मौके पर मौजूद थे। माता पिता बेटे की जान की भीख मांगते रहे लेकिन हत्‍यारे नहीं माने और हत्‍या कर दी। पुलिस ने हत्‍याकांड के मुख्‍य आरोपी को कुल्‍हाड़ी समेत गिरफ़्तार कर लिया है दूसरा हत्‍यारोपी लड़की का चाचा और हत्‍या में शामिल दो अन्‍य भाई फरार हो गए हैं।

Devi Maa Dental

कानपुर के घाटमपुर कोतवाली क्षेत्र के बिराहिनपुर गांव में शनिवार सुबह एक पिता ने अपने भाइयों के साथ मिलकर बेटी और उसके प्रेमी को बंधक बनाकर पीटा। इसके बाद दोनों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। आरोप है कि आरोपियों ने युवक को उसके माता-पिता की आंखों के सामने मारा गया। वे रहम की गुहार लगाते रहे, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर कुल्हाड़ी बरामद की है। हालांकि, आरोपी के दो भाई मौके से फरार हो गए। उनकी तलाश में पुलिस लगी है।

बिराहिनपुर के रहने वाले शिव आसरे शुक्रवार को पत्नी मीना के साथ बांदा स्थित ससुराल एक शादी में गए थे। देर रात 11 बजे शिवआसरे की नाबालिग बेटी ने गांव में ही रहने वाले प्रेमी शालू को अपने घर पर बुला लिया। दोनों के बीच लंबे समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। प्रेमी के घर आने की भनक पड़ोस में रहने वाले लड़की के चाचा दीपक को लग गई। उन्होंने दोनों को घर पर दबोच लिया। इसके बाद हाथ-पैर बांधकर दोनों को कमरे में बंद करके रात भर लाठी-डंडों से पीटा। पिटाई से दोनों कई बार बेहोश भी हो गए। इसकी सूचना अपने भाई शिव आसरे को दी। वे भी सूचना मिलते ही बांदा से लौट आए। शनिवार सुबह 7 बजे तीनों भाइयों ने मिलकर दोनों की कुल्हाड़ी और चौपड़ से काटकर हत्या कर दी।

Bansal Saree

माता-पिता की  आंखों के सामने काट डाला
मामले की जानकारी मिलते ही लड़के के पिता और उसकी मां लड़की के घर पहुंच गए। खिड़की से हाथ पैर जोड़कर चीखते-चिल्लाते रहे कि वे उनके इकलौते बेटे को छोड़ दो। अब ऐसे गलती दोबारा नहीं करेगा। इसके बाद भी हत्यारों का दिल नहीं पसीजा और माता-पिता के सामने ही दोनों को कुल्हाड़ी से काट डाला।

पिता गिरफ्तार

थाना प्रभारी धनेश प्रसाद ने बताया कि मामले की जानकारी मिलते ही घाटमपुर थाने की फोर्स मौके पर पहुंची। मुख्य हत्यारोपी शिवआसरे को दबोच लिया। मौके से कुल्हाड़ी और चापड़ भी बरामद कर लिया। जबकि हत्यारे दोनों चाचा मौके से फरार हो गए। शव की हालत देखकर गांव के लोगों का कलेजा कांप उठा। हर किसी की जुबान पर एक ही बात थी...कि कितनी बेरहमी से काटा है... इन्हें नाबालिग बच्चों पर जरा सी भी दया नहीं आई... गलती की थी तो एक बार माफी का मौका तो दिया होता...।

फॉरेंसिक टीम और पुलिस ने जुटाए साथ
मौके पर जांच करने पहुंची पुलिस और फॉरेंसिक टीम ने कई अहम साक्ष्य जुटाए हैं। जिस कमरे में हत्या की गई वहां पर रक्तरंजित कुल्हाड़ी, चापड़ दो मोटे डंडे बरामद हुए हैं। इसके साथ ही रस्सी भी मिली है। पुलिस अफसर मामले की जांच में जुटे हैं।