यूपी: कोविड प्रोटोकाल की सख्‍ती के साथ 20 जिलों में पंचायत चुनावों की वोटिंग शुरू

सुलतानपुर में विधायक नहीं कर सके मतदान, सूची से नाम गायब

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के 20 जिलों में आज सोमवार को पंचायत चुनावों के लिए मतदान प्रक्रिया सुबह सात बजे से शुरू हो गयी है। इन चुनावों में जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत, प्रधान व ग्राम पंचायत सदस्‍यों के लिए 2 लाख 33 हजार के करीब उम्‍मीदवारों ने अपना नामांकन दाखिल कराया है। शाम छह बजे तक मतदान प्रक्रिया जारी रहेगी। इस दौरान कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए गए हैं।

Devi Maa Dental

राज्य निर्वाचन आयोग के आदेशों के अनुसार बिना मास्क मतदान केंद्रों में किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा। मतदान प्रक्रिया व्यवस्थित कराने के लिए 23 वरिष्ठ अधिकारियों केा बतौर ऑब्जर्वर नियुक्त किया है। संक्रमित मतदाताओं को PPE किट पहनकर सबसे बाद में वोट डालने की अनुमति है।

सोमवार को ही मतदान प्रक्रिया के दौरान सुलतानपुर जिले के लंभुआ क्षेत्र से विधायक देवमणि द्विवेदी को मतदान केन्‍द्र से बैरंग ही वापस जाना पड़ा। मतदाता सूची में विधायक का नाम नहीं होने की वजह से वे मतदान नहीं कर पाए। हालांकि उनके परिवार के अन्‍य सदस्‍यों ने अपने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वे पत्‍नी और परिवार के अन्‍य सदस्‍यों के साथ वोट डालने पहुंचे थे। मतदाता सूची से नाम गायब होने पर विधायक असहज होकर खिन्‍न नजर आए।  

Bansal Saree

वहीं महाराजगंज के करमहा गांव में बूथ संख्या 81 पर वार्ड संख्या 14 और 15 के बैलट पेपर नहीं होने के कारण मतदान डेढ़ घंटे बाधित रहा। सेक्टर मजिस्ट्रेट के आने के बाद बैलट पेपर आया और मतदान शुरू हो चुका।

मतदान शुरू होने के दौरान ही चित्रकूट के राजापुर तहसील के प्राथमिक विद्यालय रगौली में मतदाताओं ने पुलिसकर्मियों पर मारपीट करने का आरोप लगाया। इस दौरान वोटिंग रुक गई। ग्रामीणों में घटना को लेकर आक्रोश है।

इन जिलों में हो रहा मतदान

मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतमबुद्ध नगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, सुल्तानपुर, गोंडा, महाराजगंज, वाराणसी, आजमगढ़ शामिल हैं।

सवा दो लाख से ऊपर उम्‍मीदवारों की किस्‍मत का फैसला

प्रदेश के 20 जिलों में होने वाले चुनाव में चार पदों के लिए कुल 2,33,616 नामांकन हुए थे। जिला पंचायत सदस्य के 787 पदों के लिए 8,024 नामांकन, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 19,653 पदों के लिए 56,874 नामांकन हुए थे। वहीं, ग्राम प्रधान के 14,897 पदों के लिए कुल 99,404 लोगों ने दावेदारी की है। इसी तरह ग्राम पंचायत सदस्य के 1,87,781 पदों के लिए महज 69,314 नामांकन ही हुए थे।