यूपी: हाईटेंशन लाइन पर काम करते वक्‍त करंट दौड़ने से संविदाकर्मी की दर्दनाक मौत, मुआवजे को लेकर ग्रामीण अड़े

शव नीचे उतारने को लेकर पुलिस और ग्रामीणों में हाथापायी

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। हाईटेंशन लाइन पर काम करते वक्‍त अचानक करंट दौड़ने से हुयी लाइनमैन की मौत के बाद बचाल हो गया। 11 हजार वोल्‍टेज की लाइन में फाल्‍ट ठीक करने के लिए संविदा कर्मी को भेजा गया था। घटना के बाद गुस्‍साए ग्रामीणों ने मुआवजा मिलने तक शव को खंबे से उतारने से ही इनकार कर दिया और प्रदर्शन करने लगे। हादसा युपी के बुलंदशहर जिले के औरंगाबाद इलाके में हुआ। घंटों चले धरना प्रदर्शन के बाद विधायक और पुलिस अफसरों के समझाने के बाद ग्रामीण माने। इस दौरान शव का उतारने को लेकर ग्रामीणों और पुलिस अफसरों में हाथापायी भी हुयी। घटना के तुरंत बाद ही बिजली घर का स्‍टाफ उपकेंद्र पर ताला लगा कर फरार हो गया।

Devi Maa Dental

औरंगाबाद थाने के गांव मूढ़ी बकापुर निवासी सतीश ( 42) मूढ़ी बकापुर बिजलीघर पर संविदाकर्मी था। बुधवार रात 11 हज़ार केवी की लाइन में फाल्ट होने के कारण उसने बिजलीघर को फोन करके शट डाउन ले लिया।आरोप है कि वहां एक कर्मचारी ने लाइन को चालू कर दिया और लाइन में करंट आने से उसकी मौत हो गयी। सूचना पर भारी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुँचे। मौत की सूचना मिलते ही ग्रामीणों का गुस्सा भड़क गया। ग्रामीणों ने बिजलीघर फोन कर लाइन काटने की बात कही।आरोप है कि तीन बार फिर से लाइन को जोड़ा गया।करीब एक घंटे बाद बिजली का कट हुआ। मौत की सूचना मिलते ही बिजलीघर का पूरा स्टाफ औरंगाबाद नगर की लाइन काटकर बिजलीघर पर ताला जड़कर भाग खड़ा हुआ। ग्रामीण बिजलीघर पर पहुँचे तो वहां पर ताला लटका देख हंगामा किया। सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुँची। ग्रामीणों ने पुलिस से हाथापाई का प्रयास किया। रात 11 बजे एक्सईएन जितेंद्र मौके पर पहुंचे।

एक्सईएन ने रस्सी मंगवाकर शव को उतरवाने का प्रयास किया तो पब्लिक भड़क गई। भीड़ का कहना था कि जब तक मृतक के परिजनों को मुआवजा नही मिल जाता तब तक शव को खंबे से उतरने नही दिया जाएगा। इस बीच रालोद के पक्षिम क्षेत्र के उपाध्यक्ष योगेंद्र सिंह लोधी आ गए और एडीएम प्रशासन से फोन पर मुआवजे की बात की। 12 बजे अनूपशहर विधायक संजय शर्मा और सीओ सिटी संग्राम सिंह भी पहुंचे। एक्सएआईन ने विभाग की ओर से पांच लाख रुपये मृतक की पत्नी को देने की बात कही। साथ ही तहसीलदार ने किसान दुर्घटना बीमा योजना के तहत पांच लाख की सरकार से मदद दिलाने का भरोसा दिया। जबकि अनूपशहर विधायक संजय शर्मा ने मृतक की दो लड़कियों को 11-11 हज़ार रुपये देने की बात कही। तब जाकर ग्रामीणों ने शव खंबे से उतरने दिया।

Bansal Saree