यूपी: फिरोजाबाद समेत कई जिलों में भीड़ हटाने को पुलिस ने चलायी लाठी, कोविड नियमों का उल्‍लंघन जारी

नतीजे आने शुरू सैफई में शिवपाल यादव के भतीजे अभिषेक 1100 वोटों से आगे

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। रविवार को यूपी के पंचायत चुनावों के लिए मतगणना हो रही है। नतीजे आने भी शुरू हो गए हैं। यूपी के दिग्‍गज समाजवादी नेता शिवपाल सिंह यादव के भतीजे अभिषेक यादव 1100 वोटों से आगे चल रहे हैं। वहीं सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन कराने के लिए कई जगहों पर पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा है। नतीजे आने के बाद उत्‍साहित भीड़ ने हंगामा शुरू किया तो पुलिस ने फिरोजाबाद में लाठीचार्ज कर दिया। यूपी पंचायत चुनाव का पहला नतीजा रायबरेली में ग्राम पंचायत प्रतिनिधि (बीडीसी) पद से आया है। यहां पर पचखरा गुड्डी देवी विजयी हुईं। इन्हेंं कुल 583 मत मिले। इन्होंने 239 वोट पाने वाली अंतिमा को हराया है। ऊंचाहार के हटवा ग्राम सभा में सुमित्रा विजयी ने 690 मत पाकर सरिता देवी को हराया है। इसी तरह निगोहां में प्रधान पद के प्रत्याशी आशीष तिवारी ने जीत दर्ज की है। वहीं चंदौली जिले में प्रधान पद के लिए करीबी संघर्ष में प्रत्याशी ने सिर्फ दो वोट से जीत दर्ज की।

Devi Maa Dental

चंदौली की चकिया ब्लाक की ग्राम सभा इसहुल का परिणाम सबसे पहले आया। यहां पर प्रधान पद के प्रत्याशी ओमप्रकाश 470 मत प्राप्त कर दो वोट से जीते। उन्होंने निकटतम प्रत्याशी चंदन को हराया। चंदन को 468 मत मिले।

सैफई में जिला पंचायत पद के लिए शिवपाल यादव के भतीजे अभिषेक यादव 1100 वोटों से आगे। इनके अलावा एटा (अलीगढ़) से बद्री प्रसाद, छितपुर (कानपुर) से बाबूलाल कोरी, अटानगर से सुनीता गिरि और बेहटा (लखनऊ) से ललित सिंह विजयी रहे हैं।

Bansal Saree

उत्तर प्रदेश में चारों चरणों में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,194, ग्राम पंचायत सदस्य के 7,31,813, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 75,808 तथा जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए मत डाले गए हैं। इनमें से कुछ पदों पर निर्विरोध निर्वाचन भी हो चुका है। इससे पहले शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना महामारी को देखते हुए उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव की मतगणना टालने की मांग ठुकरा दी। कोर्ट ने चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करने का निर्देश देते हुए कुछ और कड़ी शर्तों के साथ मतगणना जारी रखने की इजाजत दे दी है।

फिरोजाबाद के जसराना में एजेंटों की भीड़ को लेकर पुलिस ने जमकर लाठी चलाई। बचने के लिए दौड़े एजेंट। मची अफरा-तफरी। फतेहपुर में मतगणना स्थल पर कोविड प्रोटोकाल तार-तार। सुखदेव इंटर कालेज खागा और चन्द्रदास इंटर कालेज हसवा में जुटी प्रत्याशियों की भीड़। इसी तरह बागपत में मतगणनास्थल के बाहर भीड़ ने हंगामा किया तो पुलिस ने खदेड़ दिया। मेरठ में अव्यवस्थाओं के बीच मतगणना: अव्यवस्था के बीच त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना रविवार सुबह आठ बजे शुरू हो गई है।