यूपी पंचायत चुनाव: विधानसभा चुनावों के सेमीफाइनल में भाजपा को झटका, अयोध्‍या, काशी और मथुरा से बीजेपी गायब

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में हुए पंचायत चुनावों की विधानसभा चुनावों की तर्ज पर लड़ रही भाजपा को तगड़ा झटका लगा है। गौरतलब है कि यूपी में अगले साल 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं। लिहाजा भाजपा ने पंचायत चुनावों को ट्रायल के तौर विधानसभा चुनावों की तर्ज पर लड़ा था लेकिन यूपी के कई जिलों में भाजपा पंचायत चुनावों में कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पायी। विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव को विधानसभा चुनावों का सेमीफाइनल मानकर चल रही सत्ताधारी भाजपा को इन नतीजों से बड़ा झटका लगा है।

Devi Maa Dental

यूपी में अयोध्या, काशी और मथुरा में BJP को करारी मात मिली है। जबकि सपा ने अपना खोया जनाधार हासिल किया है। हालांकि, BJP ने फिर भी दावा किया यूपी पंचायत चुनाव में वह नंबर वन पर है। अभी अंतिम परिणाम नहीं आए हैं। ऐसे में अंतिम परिणाम आने के बाद ही पता चल पाएगा कि उत्तर प्रदेश में नंबर वन कौन है?

प्रदेश में चार पदों के लिए पंचायत चुनाव हुए हैं। इसमें BJP के साथ-साथ विपक्षी दल समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने भी ताकत झोंकी। अगले साल 2022 में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव हैं। ऐसे में पंचायत चुनाव को ग्रामीण क्षेत्रों में पार्टी के बढ़ते-घटते जनाधार के तौर पर देखा जा रहा था। फिलहाल, अब तक जो परिणाम आए हैं। वह भाजपा के लिए अच्छे नहीं हैं।

Bansal Saree

अयोध्या: राम की नगरी में BJP को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है। यहां जिला पंचायत सदस्य की 40 में से 24 सीटों पर SP ने कब्जा जमाया है। BJP के खाते में सिर्फ छह सीट आई हैं। मायावती की BSP ने 5 सीट पर जीत हासिल की है।

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जिला पंचायत सदस्य की 40 सीटों पर BJP के 8 उम्मीदवार जीते हैं और सपा ने 14 पदों पर अपना कब्जा जमाया है। इसके अलावा निर्दलीय 1, अपना दल 1, बसपा 1, आम आदमी पार्टी 1 का ही परिणाम आया।

मथुरा: यहां बसपा ने 12 उम्मीदवारों के जीतने का दावा किया है। जबकि BJP के खाते में 9 सीट और SP को एक सीट से काम चलाना पड़ा है। तीन निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं। यहां कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है।

फाइनल परिणाम आज

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य पदों के 12 लाख 89 हजार 930 कैंडिडेट्स उतरे हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, सोमवार रात तक प्रदेश के सभी जिलों में 2,32,6,12 ग्राम पंचायत सदस्य और 38,317 प्रधान एवं 55,926 क्षेत्र पंचायत सदस्य और 181 जिला पंचायत सदस्य जीत चुके हैं। कुछ और जगह के रिजल्ट भी आए हैं। लेकिन वह अभी वेबसाइट पर अपडेट नहीं हुए हैं। अभी 826 मतदान केंद्रों पर मतगणना हो रही है। इसके परिणाम मंगलवार दोपहर तक आने की संभावना है। इसमें मुख्य जिला पंचायत सदस्य को जाना जाता है। इसमें पार्टियां अपना सिंबल नहीं देती है।