UP ELECTION 2022: जानिए, चुनावी माहौल में बरेली के किस किस डाक्टर को चढ़ा बुखार, क्लीनिकों पर मरीज नहीं समर्थकों की भीड़

 | 

न्यूज टुडे नेटवर्क। विधानसभा चुनाव की घंटी बजते ही बरेली शहर विधानसभा की कुर्सी के लिए जंग लड़ने वाले बहुत नामी डॉक्टर भी मैदान में अपनी मौजूदगी दिखा रहे हैं। इनमें ज्यादातर दावेदारों का कोई राजनीतिक करियर नहीं रहा है। फिर भी लगातार इन डॉक्टरों के क्लीनिक और अस्पतालों में राजनीतिक विश्लेषण एवं समर्थकों का हुजूम लगा रहता है जहां पहले मरीजो कि लंबी-लंबी लाइने लगती थी, वहीं अब इसकी जगह इनके समर्थकों ने ले ली है, जहां पहले ये डॉक्टर मरीजों का हाथ पकड़ कर उनका इलाज ढूंढते थे। वही अब ये डॉक्टर धीरे-धीरे राजनीति के बुखार से पीड़ित होते जा रहे हैं। राजनीति का बुखार इस कदर इन पर हावी हो गया है कि लगातार हर मंच पर एवं पार्टी के कार्यक्रमों में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रहे हैं। इन बीमार डॉक्टरों को अब केवल टिकट का इंतजार है, कि पार्टी किसके नाम की घोषणा करती है फिलहाल तो लिस्ट आने में अभी 2 से 3 दिन का समय है जब तक यह सभी अपने अपने मरीजों से दूरी बनाए हुए हैं और राजनीति के हॉस्पिटल में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाएं हुए है।

Bansal Saree

वैसे बरेली के अंदर भारतीय जनता पार्टी ने डॉक्टरों को कई बार टिकट दिया है,और ये डॉक्टर कई बार विधानसभा चुनाव भी जीते है। बरेली की शहर विधानसभा सीट से 1984 में डॉ. दिनेश जौहरी जब पहली बार भाजपा के टिकट पर विधायक चुने गए थे, जब भाजपा के प्रदेश में केवल 14 विधायक थे।डॉ. दिनेश जौहरी लगातार तीन बार शहर सीट से विधायक चुने गए और मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के मंत्रिमंडल में स्वास्थ्य मंत्री भी रहे।अब डॉ. अरुण कुमार बरेली विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. पेशे से चिकित्सक डॉ. अरुण कुमार भारतीय जनता पार्टी के सदस्य है. वह बरेली क्षेत्र में चिकित्सक के साथ-साथ राजनीतिज्ञ के रूप में भी जाने जाते हैं. वह भारतीय जनता पार्टी के बैनर तले ही दो बार विधायक पद पर कार्य कर चुके हैं !

अब जिस तरह से राजनीतिक समीकरण बदल रहे हैं और पिछले कुछ वर्षों में लगातार भारतीय जनता पार्टी का जो कुनबा बड़ा है। उससे भारतीय जनता पार्टी के अंदर कई सारे डॉक्टर भी सक्रिय सदस्य हो गए हैं,और इसी कारण इस विधानसभा चुनाव में कई सारे डॉक्टर भी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं बरेली शहर की बात की जाए तो बरेली शहर से चार प्रमुख डॉ अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं। इन डॉक्टरों में डॉ प्रमेंद्र महेश्वरी,डॉ विनोद पागरानी, डॉक्टर विकास वर्मा डॉ विमल भारद्वाज पूरी लगन के साथ अपनी दावेदारी मजबूत करने में लगे हैं, इन चारों डॉक्टरों को उम्मीद है कि पार्टी की तरफ से भाजपा का चेहरा इनका ही होगा फिलहाल तो यह आने वाला समय ही बताएगा कि पार्टी का चेहरा कौन होता है पार्टी किसको टिकट देती है।

Devi Maa