सीएम योगी को बुलाने की मांग पर परिजनों ने साढ़े तीन घंटे तक रोका शहीद जवान का अंतिम संस्कार

न्यूज टुडे नेटवर्क। छत्तीसगढ़ में शहीद हुए यूपी के जवान की अन्त्येष्टि में सीएम योगी आदित्यनाथ को बुलाने को लेकर तीन घंटे तक शवयात्रा रूकी रही। नक्सली मुठभेड़ में शहीद हुए यूपी के सीआरपीएफ के जवान धर्मदेव का तिरंगे में लिपटा पार्थिव शव मंगलवार की सुबह उनके पैत्रक गांव ठेकहां लाया गया था। यहां प्रभारी
 | 
सीएम योगी को बुलाने की मांग पर परिजनों ने साढ़े तीन घंटे तक रोका शहीद जवान का अंतिम संस्कार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। छत्‍तीसगढ़ में शहीद हुए यूपी के जवान की अन्‍त्‍येष्टि में सीएम योगी आदित्‍यनाथ को बुलाने को लेकर तीन घंटे तक शवयात्रा रूकी रही। नक्‍सली मुठभेड़ में शहीद हुए यूपी के सीआरपीएफ के जवान धर्मदेव का तिरंगे में लिपटा पार्थिव शव मंगलवार की सुबह उनके पैत्रक गांव ठेकहां लाया गया था। यहां प्रभारी मंत्री समेत तमाम अन्‍य जनप्रतिनिधियों समेत आला अफसरों ने पहुंच कर शहीद जवान को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Devi Maa Dental

इसी दौरान शहीद के परिजन सीएम योगी को बुलाने की मांग पर अड़ गए। परिजनों ने कहा कि जब तक सीएम नहीं आएंगे तब जवान का अंतिम संस्‍कार नहीं होगा। इस जिद के आगे अफसर भी पस्‍त पड़ गए। इसके बाद लगभग साढ़े तीन घंटे तक मनाने का दौर चला अफसरों के मनाने के पर शहीदके परिजन माने तब कहीं जाकर शहीद का अंतिम संस्‍कार किया जा सका।

दोपहर लगभग ढाई बजे पार्थिव शरीर मणिकर्णिका घाट वाराणसी के लिए रवाना हुआ। चंदौली जिले के शहाबगंज ब्लॉक के ठेकहां गांव निवासी रामाश्रय गुप्ता के पुत्र धर्मदेव कुमार (34) रविवार को छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। उनका पार्थिव शरीर मंगलवार की सुबह पैतृक गांव ठेकहां पहुंचा। भारत माता की जय और शहीद धर्मदेव अमर रहे के जयकारे से समूचा वातावरण गुंजयमान हो गया।

Bansal Saree

सीआरपीएफ जवानों ने शहीद को गार्ड ऑफ आनर दिया। प्रभारी मंत्री रमाशंकर पटेल, विधायक शारदा प्रसाद, विधायक सुशील सिंह, डीएम संजीव सिंह, एसपी अमित कुमार, सीआरपीएफ कमांडेंट रामलखन समेत अन्य लोगों ने श्रद्धांजलि दी। शहीद धर्मदेव कुमार का पार्थिव शरीर ठेकहां गांव पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पिता रामाश्रय गुप्ता, माता कृष्णावती, पत्नी मीना, भाई आनंद गुप्ता व धनंजय गुप्ता (सीआरपीएफ जवान), बेटी ज्योति व साक्षी समेत परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल बना रहा।