प्रयागराज में निर्मम हत्‍या: पिता ने पहले बेटे के हाथ काटे फिर धड़ से अलग कर दी गर्दन

शराबी बेटे से नशे को लेकर हुए झगड़े के बाद पिता ने दिया वारदात को अंजाम

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के प्रयागराज में रिश्‍तों का कत्‍ल हो गया। नशेड़ी पिता ने बेटे को शराब पीने के विवाद के बाद कुल्‍हाड़ी से काट डाला। पुलिस ने आरोपी पिता को हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि नशेड़ी बेटे का पहले पिता से शराब पीने को लेकर विवाद हुआ। विवाद इस कदर बढ़ा कि गुस्‍से में पिता ने बेटे को बेरहमी से कुल्‍हाड़ी से काटकर हत्‍या कर दी।

Devi Maa Dental

जानकारी के अनुसार, चौथे नम्बर का बेटा शशिकांत पांडेय (26) की अभी शादी नहीं हुई थी। गांव मे रहते हुए उसकी लत बिगड़ गई थी। वह शराब का आदी हो गया था। आए दिन शराब को लेकर पिता से झगड़े होते थे। 01 एक मई की देर रात करीब 11.30 बजे शशिकांत बाहर से शराब पीकर आया और घर मे हंगामा करने लगा। लालाराम ने समझाने का प्रयास किया तो वह पिता से ही भिड़ गए।

आवेश में पिता लालाराम ने कुल्‍हाड़ी उठायी और नशे में धुत बेटे शशिकांत का दोनों हाथ व गला काट दिया। जिससे शशिकांत की मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों की जानकारी हुई तो पुलिस को सूचना दी गई।सूचना पर थानाध्यक्ष घूरपुर भुवनेश्वर चौबे फोर्स के साथ पहुँचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया। आरोपी लाला राम को हिरासत में ले लिया है।

Bansal Saree

यमुनापार के घूरपुर थानांतर्गत बीरबल गांव निवासी लालाराम पांडेय के चार बेटे और एक बेटी है। बेटी की शादी हो चुकी है। दो बेटे रमाकांत पांडेय व उमाकांत पांडेय की शादी हो चुकी है। दोनों बेटे अपनी-अपनी पत्नियों को लेकर सूरत, गुजरात में रहते हैं और प्राइवेट नौकरी करते है। यहां पर चौथे नम्बर के बेटे और पत्नी संग लालाराम रहते थे।

लालाराम के तीसरे नम्बर का बेटा दिसंबर 2010 में गांव के बाहर बाग में एक पेड़ की डाल से फाँसी पर लटका मिला था। उसकी मौत पर भी गांव वालों ने पिता लालाराम पांडेय पर हत्या का आरोप लगाया था। हालांकि उस वक्त मामला रफा दफा हो गया था।

पुलिस की पूछताछ जारी
एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित ने बताया कि आरोपी को आला कत्ल के साथ हिरासत में ले लिया गया है। हत्या की वजह शराब पीकर झगड़ा करना बताई जा रही है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।