सांसद आजम खां खतरे से बाहर, डाक्‍टरों ने कहा- अब घबराने की कोई बात नहीं, स्‍वास्‍थ्‍य में बेहतर सुधार

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सपा नेता और सांसद आजम खां अब खतरे से बाहर हैं। सोमवार को सपा नेता आजम को आईसीयू वार्ड से जनरल वार्ड में शिफ़्ट कर दिया गया है। पिछले रविवार नौ मई को सीतापुर जेल में स्‍वास्‍थ्‍य खराब होने के बाद सपा नेता को लखनऊ के मेदांता अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था यहां उन्‍हें आक्‍सीजन सपोर्ट पर रखा गया था। उन्हें डॉक्टर्स ने ICU से जनरल वार्ड में शिफ्ट कर दिया है। डाक्‍टरों ने कहा कि आजम खान अबखतरे से बाहर हैं घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

Devi Maa Dental

14 महीने से सीतापुर जेल में बंद थे आजम
आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला पिछले 14 महीने से सीतापुर जेल में बंद थे। दोनों 1 मई को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। अभी तक उनका जेल में इलाज चल रहा था, लेकिन ऑक्सीजन लेवल कम होने के बाद रविवार को उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। आजम के साथ उनके बेटे अब्दुल्ला को भी मेदांता में ही भर्ती कराया गया था।

आजम, उनकी पत्नी रामपुर सदर से विधायक तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला के खिलाफ फरवरी 2020 में रामपुर के अपर जिला न्यायाधीश धीरेंद्र कुमार की अदालत ने कुर्की का वारंट जारी किया था। यह वारंट पूर्व विधायक अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाणपत्र बनवाने से संबंधित मुकदमे में जारी किए गए थे। अदालत में पेश न होने के कारण तीनों के खिलाफ गैर जमानती वारंट पहले ही जारी किए जा चुके थे।

Bansal Saree

तीनों ने अपर जिला न्यायाधीश की अदालत में समर्पण किया था। जहां उन्हें 2 मार्च 2020 तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। सांसद आजम समेत तीनों नेताओं को रामपुर जेल में रखा गया था। लेकिन, कानून व्यवस्था का हवाला देकर तीनों को सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। इससे पहले 20 दिसंबर को फातिमा जेल से रिहा हुई थीं। हालांकि, उनके बेटे अब्दुल्ला और खुद सांसद आजम खान जेल में रहे।