मेरठ: बारिश में घर के मेनगेट पर उतर आया करंट, पहले पिता चिपके, बचाने गए दो बेटों की भी करंट से मौत

एक साथ तीन मौत से परिवार में मचा कोहराम

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के मेरठ में पिता और दो बेटों की करंट लगने से दर्दनाक मौत हो गयी। बारिश के कारण घर के मेन गेट में करंट उतर आया था। पिता गेट खोलने गए तो करंट से गेट पर ही चिपक गए। पिता के छटपटाने की आवाज सुनकर एक एक करके दो बेटे पिता को बचाने पहुंचे लेकिन वे भी करंट की चपेट में आ गए। कुछ ही देर में छटपटाते हुए तीनों ने दम तोड़ दिया। एक साथ तीन मौतों से पूरे परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पाकर पुलिस पहुंची है। भाजपा विधायक दिनेश खटिक ने भी मौके पर पहुंचकर घटना पर शोक जताया है।

Bansal Saree

मेरठ के परीक्षितगढ़ थाना क्षेत्र के गांव एचीखुर्द निवासी किसान पूरन गिरी (45 साल) सोमवार सुबह घर के मुख्य गेट को खोलने गए थे। उस समय बारिश हो रही थी। गेट के बराबर से ही बिजली के मीटर का तार गया हुआ है। बिजली के मीटर का तार कटा था, यह तार लोहे के गेट से टच हो गया। इससे पूरन गिरि करंट की चपेट में आ गए। उसके बाद उनका बड़ा बेटा निखिल गिरी (21 साल) बचाने के लिए दौड़ा। लेकिन वह भी करंट की चपेट में आ गया। दोनों करंट लगने से छटपटाने लगे। तभी दूसरा बेटा आशुतोष (18 साल) भी बचाने के लिए दौड़ा तो वह भी करंट की चपेट में आ गया। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई।

भाजपा विधायक ने जताया शोक

Devi Maa Dental

पूरन गिरि और उनके दो बेटों की मौत के बाद अब परिवार में उनका सिर्फ एक ही बेटा बचा है। परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है। CO सदर देहात पूनम सिरोही, बिजली विभाग के एसडीओ व एक्सईएन के अलावा भाजपा विधायक दिनेश खटीक भी मौके पर पहुंचे हैं। ग्रामीण पीड़ित परिवार के लिए आर्थिक सहायता की मांग कर रहे हैं।