मथुरा: जंगल से युवक का क्षत-विक्षत शव बरामद, परिजन बोले- चुनावी रंजिश में कर डाली बेटे की हत्‍या

एक गांव के प्रधान का चचेरा भाई है मृतक युवक, 7 लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी  

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के मथुरा में एक गांव के प्रधान के चचेरे भाई का शव मिलने से सनसनी फैल गयी। प्रधान का भाई पिछली 17 जुलाई से लापता था। वृन्‍दावन कोतवाली की जैंत चौकी क्षेत्र के नगला नेता के जंगल में युवक का शव क्षत विक्षत अवस्‍था में बरामद किया गया है। युवक के दोनों हाथ काट दिए गए हैं। क्षत विक्षत शव मिलने की खबर इलाके में आग की तरह फैल गयी कुछ ही देर में वहां ग्रामीणों की भारी भीड़ जमा हो गयी। मौके पर अफसर भी कई थानों की फोर्स के साथ पहुंच गए और मामले की जांच शुरू कर दी। मृतक के परिवार की ओर से 7 लोगों के खिलाफ तहरीर दी गयी है। आरोप है कि चुनावी रंजिश में उनके परिवार के युवक की हत्‍या की गयी है।

Bansal Saree

सोमवार रात को मिले शव की पहचान नगला नेता के प्रधान योगेश चौधरी के चचेरे भाई हरिओम के रूप में हुई है। मौके पर पहुंची फॉरेंसिंक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। जांच के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

रंजिशन हत्‍या का आरोप

Devi Maa Dental

मृतक हरिओम के छोटे भाई विष्णु ने चुनावी रंजिश के चलते भाई की हत्या करने का आरोप लगाया है। प्रधान योगेश के अनुसार चुनावी रंजिश के चलते नामजद उनके ऊपर पहले भी झूठे मुकदमे दर्ज करा चुके हैं। प्रधान ने कहा कि आरोपी उनकी भी हत्या करा सकते हैं। उन्होंने प्रशासन से आरोपियों के खिलाफ जांच कर सख्त कार्रवाई करने की मांग की। मामले में मृतक के भाई विष्णु ने चार नामजद पर भाई की हत्या व 3 अन्य पर हत्या के षडयंत्र रचने के आरोप में तहरीर दी है।

मृतक हरिओम के परिजनों के अनुसार 17 जुलाई की शाम 6 बजे गांव के ही सत्यवीर, सोहन लाल, विष्णु और राम भरोसे निवासी गांव वधाल बाइक पर बैठा कर उसे ले गए थे। तभी से वह गायब था। सीओ सदर गौरव त्रिपाठी ने बताया कि जंगल में शव मिला हैं। उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया हैं। परिजन चुनावी रंजिश में हत्या का आरोप लगा रहे हैं। मामले में तहरीर के आधार पर जांच कर विधिक कार्रवाई की जाएगी।