पुलिस की लापरवाही से गयी विवाहिता की जान, 4 सितंबर को थाने में उत्‍पीड़न की शिकायत की थी कार्रवाई नहीं हुयी

आरोप- ससुरालियों ने गला घोंटकर मार डाला, राजधानी लखनऊ का है मामला

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। राजधानी लखनऊ में दहेज के लिए ससुरालियों ने एक विवाहिता की हत्‍या कर डाली। विवाहिता के परिजनों ने पति व परिवार के अन्‍य सदस्‍यों के खिलाफ दहेज हत्‍या की तहरीर दी है। मृतका के भाई ने बताया कि बीती चार सितंबर को थाने पर उत्‍पीड़न की शिकायत की गयी थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। तहरीर मिलने के बाद पुलिस आरोपी पति को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

Bansal Saree

मलिहाबाद निवासी रामशंकर की बहन सुशीला देवी (25) का शुक्रवार शव घर की छत पर मिला। सुशीला की चार माह पहले काकोरी के शाहपुर भ्रमरौली निवासी मोहित कुमार से हुई थी। भाई रामशंकर के मुताबिक शुक्रवार सुबह मोह्लेवालों से पता चला कि बहन की उसके पति ने हत्या कर दी है। घर आकर देखा तो उसका शव छत पर पड़ा था। उसके ससुराल वालों ने चोट में बांधने वाली गर्म पट्टी की रस्सी बनाकर गला घोट दिया। जो उसके गले में कसा मिला। वहीं उसके ससुराल वाले सही से बात नहीं कर रहे थे न ही उन्होंने घटना की जानकारी दी थी।

मृतका सुशीला देवी के भाई रामशंकर का आरोप है कि उसका पति मोहित अतिरिक्त दहेज के लिए शादी के बाद से ही प्रताड़ित करने लगा। चार सितंबर को उसने बहन को बेरहमी से पीटा था। जिसकी शिकायत थाने पर की गई थी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। जिसके चलते सुशीला को उसके पति मोहित, ससुर छोटे लाल, देवर गुलशन, ननद किरन और पड़ोसी इंद्रजीत ने मार डाला।

Devi Maa Dental

काकोरी थाना प्रभारी ब्रजेश सिंह ने बताया कि पीड़िता की तरफ से थाने पर कोई लिखित शिकायत नहीं की गई है। थाने पर शिकायत की जांच भी कराई गई। चौकी पुलिस से भी इस तरह की शिकायत मिलने के विषय में पता लगाने को कहा गया है। विवाहिता की गला घोटकर हत्या लग रही है। पोस्टमार्टम में मौत की सही वजह सामने आएगी। आरोपी पति मोहित को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।