लखीमपुर हिंसा: एसआईटी के सवालों का सीधा जवाब ना दे पाने पर आज मंत्री पुत्र आशीष को घटनास्‍थल पर ले जायेगी टीम

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। लखीमपुर हिंसा मामले में लगातार एसआईटी की जांच में सहयोग नहीं कर रहे गृहराज्‍यमंत्री के बेटे आशीष को पुलिस आज घटना स्‍थल पर लेकर जायेगी। दरअसल आशीष एसआईटी के किसी सवाल पर सीधा स्‍पष्‍ट जवाब नहीं दे पा रहा है। आज घटनास्‍थल पर जाकर पुलिस दोबारा बारीकी से घटनास्‍थल का निरीक्षण करेगी वहां से साक्ष्‍य भी एकत्र किए जायेंगे। इसकी पूरी वीडियोग्राफी व फोटोग्राफी भी होगी।

Bansal Saree

वहीं हिंसा मामले में भीड़ पर मुकदमा दर्ज कराने वाले भाजपा फरार भाजपा नेता सुमित जायसवाल की भी पुलिस ने सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है। हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को भी एसआईटी ने जांच के दौरान बयान दर्ज कराने का नोटिस दिया है।

एसआईटी की टीम आरोपी आशीष मिश्र के मंगलवार को किसी भी सवाल का सही से जवाब न देने पर मौके पर ले जाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए घटना स्थल के आसपास पुलिस की सक्रियता को भी बढ़ा दिया गया है। जिससे कोई अप्रिय घटना होने की एक प्रतिशत भी गुंजाइश न रहे। आशीष मिश्र को मंगलवार को एसआईटी टीम ने 72 घंटे की कस्टडी रिमांड पर लिया था। जिसके बाद से क्राइम ब्रांच के आफिस में पूछताछ कर रही है।

इसके साथ ही घटना स्थल से एक बार फिर फॉरेंसिक टीम साक्ष्य जुटाने के लिए बारीकी से पड़ताल करेगी। यह निर्णय मौके पर मिले साक्ष्यों की जांच के बाद लिया गया है। साक्ष्य संकलन के दौरान वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। दूसरी तरफ घटना स्थल पर मौजूद शेखर से भी पुलिस टीम रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। शेखर को बुधवार सुबह 11 बजे रिमांड पर लेकर पुलिस लाइन स्थित एसआईटी के दफ्तर में पूछताछ की जा रही है।

Devi Maa Dental

थार जीप में सवार फरार सुमित की तलाश हुयी तेज

3 अक्टूबर को लखीमपुर तिकुनिया में किसानों को कुचले जाने के बाद भड़की हिंसा के चार और लोगों की पीट-पीट कर हत्या मामले में पुलिस केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के लड़के आशीष मिश्र की गिरफ्तारी के बाद उसके साथ मौजूद भाजपा नेता सुमित जायसवाल को तलाश रही है। सुमित जायसवाल थार जीप में बैठा था, जो घटना के बाद भीड़ के हमलावर होने के बाद मौके से जान बचाकर भागने की बात कही थी और उसकी ही तहरीर पर पुलिस ने उग्र भीड़ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।