लखीमपुर हिंसा: आज आशीष मिश्रा व अंकित दास को घटनास्‍थल पर ले जाएगी एसआईटी

सभी आरोपियों से अलग अलग पूछताछ होगी, अंकित व आशीष का सामना भी होगा

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। लखीमपुर हिंसा के आरोपी आशीष मिश्रा और सहआरोपी अंकित दास को आज एसआईटी घटनास्‍थल पर लेकर जायेगी। आज ही दोनों दोस्‍तों आशीष और अंकित दास का सामना भी कराया जायेगा। पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री अखिलेश दास के भतीजे अंकित दास को पुलिस सरेंडर करने की कोशिश करने से पहले ही गिरफ़्तार कर लिया था। आज से अंकितदास को भी पुलिस ने तीन दिन की रिमांड पर लिया है।

Bansal Saree

फार्च्‍यूनर गाड़ी में मौजूद था अंकित दास

अंकित दास और काले ने बुधवार को एसआईटी की पूछताछ में हिंसा के वक्त काली फॉर्च्युनर में मौजूद होने की बात की बात कबूल की थी। जिसके बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था। वहीं पुलिस इनके ड्राइवर शेखर को भी रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। बुधवार सुबह ही पुलिस ने अंकित के लखनऊ स्थित आवास पर नोटिस चिपकाया था। उसके कुछ घंटे बाद ही उसने सरेंडर कर दिया। अंकित, केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष का दोस्त है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक SIT की टीम आरोपी आशीष मिश्र का अंकित दास, लतीफ उर्फ काले और ड्राइवर शिखर से अलग-अलग पूछताछ के बाद आमना-सामना कराएगी। इस दौरान उनके बयानों का क्रास वैरिफिकेशन कराएगी। साथ ही घटना स्थल पर जाकर उनकी प्रमाणिकता का बारीकी से पड़ताल करेगी। आशीष मिश्र को मंगलवार को एसआईटी टीम ने 72 घंटे की कस्टडी रिमांड पर है। जबकि ड्राइवर शेखर को बुधवार को कस्टडी रिमांड पर लिया गया है। वहीं, अंकित दास व काले को गुरुवार को लिया जाएगा। साक्ष्य संकलन के दौरान वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी।

Devi Maa Dental

आशीष की जमानत को देंगे अर्जी

मुख्य आरोपी आशीष मिश्र उर्फ मोनू के अधिवक्ता वकील अवधेश सिंह आज (गुरुवार) जिला जज के यहां जमानत के लिए प्रार्थना पत्र लगाएंगे। बुधवार को उसके वकील ने CJM की कोर्ट में अर्जी लगाई थी। जहां उसकी जमानत अर्जी खारिज कर दी गई थी।