कानपुर/उन्‍नाव: घर से दवा लेने गया था HDFC बैंककर्मी, उन्‍नाव की शारदा नहर में ड्रम में मिला शव

मां ने हत्‍या का लगाया आरोप, काल डिटेल के आधार पर चार दोस्‍त और गर्लफ्रेंड गिरफ़्तार

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। घर के काम से पिछले चार दिन पूर्व गया बैंककर्मी का शव उन्‍नाव की शारदा नहर में प्‍लास्टिक के ड्रम के भीतर मिला है। बैंककर्मी कानपुर का निवासी है। युवक एचडीएफसी बैंक में कर्मचारी था। मामले की जांच में जुटी पुलिस ने युवक के चार दोस्‍तों और उसकी गर्लफ्रेंड को उठाया है, काल डिटेल के आधार पर पुलिस की कार्रवाई आगे बढ़ रही है। हत्‍या के खुलासे के लिए कानपुर और उन्‍नाव दोनों जगहों की पुलिस जुटी हुयी है। मृतक बैंककर्मी की मां ने बताया कि वह घर से दवा लेने के लिए निकला था लेकिन कुछ बाद बाद भी उसका मोबाइ‍ल स्विच आफ हो गया।

Bansal Saree

उन्नाव के सराय कटियान के करीब पुरवा गांव में झाड़ियों के बीच शनिवार को एक ड्रम फंसा मिला। ग्रामीणों की सूचना पर दही चौकी थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। ड्रम के खुलते ही बदबू से पुलिस के भी होश उड़ गए। शव को उन्नाव पोस्टमार्टम हाउस ले जाया गया। यहां जांच-पड़ताल के बाद शव की शिनाख्त 4 दिनों से लापता HDFC बैंक कर्मी विशाल के रूप में हुई।

कानपुर के नौबस्ता मछरिया संजय नगर कॉलोनी निवासी विष्णु अग्रवाल के बेटा विशाल (26 उम्र) HDFC बैंक के लोन डिपार्टमेंट में कार्यरत था। विशाल की मां ने बताया कि 7 सितंबर की सुबह बैंक जाने के लिए अपनी स्कूटी से निकला था। तबीयत खराब होने के चलते उसने शाम को फोन पर बताया कि वह मालरोड के डॉ. राजीव कक्क्ड को दिखाकर घर लौटेगा। इसके बाद उसका मोबाइल बंद हो गया था। पुलिस अब माल रोड के CCTV फुटेज से भी हत्यारों का सुराग तलाश रही है।

Devi Maa Dental

कानपुर के नौबस्ता थाना प्रभारी सतीश सिंह ने बताया कि, मृतक विशाल की लास्ट लोकेशन माल रोड पर 7 सितंबर को रात 8:30 बजे की मिली है। कॉल डिटेल के आधार पर उसके 4 दोस्तों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इसके साथ ही उसकी एक गर्लफ्रेंड को भी पुलिस ने जांच के दायरे में लिया है। जल्द ही हत्याकांड का खुलासा होगा। हत्याकांड को सुनियोजित ढंग से अंजाम दिया गया है। इसी के चलते हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए प्लास्टिक के ड्रम का इस्तेमाल किया गया। शव रखने के बाद बकायदा ड्रम को सील कर दिया गया था। इससे एक बात को साफ है कि हत्याकांड को प्लानिंग के तहत अंजाम दिया गया है।