कानपुर: मातम में बदलीं शादी की खुशियां, हर्ष फायरिंग में एक बाराती की मौत, जान बचाकर भागे बाराती

दूल्‍हे के दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों ने दुल्‍हन के घर बारात पहुंचते ही की थी अंधाधुंध फायरिंग

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। दुलहन के घर बारात पहुंचते ही वहां मौजूद युवकों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में एक बाराती की मौत हो जबकि पूरी बारात को भागकर जान बचानी पड़ी। यूपी के कानपुर में शादी समारोह में हर्ष फायरिंग के दौरान यह घटना हुयी। फायरिंग में युवक की मौत के बाद बाकी बाराती भी वहां से भाग गए। हर्ष फायरिंग और मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दूल्‍हे के पिता से पूछताकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

Devi Maa Dental

दूल्हे के दोस्त और रिश्तेदार कर रहे थे फायरिंग

मामला बिल्हौर के दलेलपुर गांव का है। यहां के रहने वाले विश्वनाथ की बेटी प्रियंका की शनिवार रात को बारात आई थी। देर रात नाच-गाने के दौरान दूल्हे के दोस्त और उसके रिश्तेदार नशे में धुत्त होकर अंधाधुंध हवाई फायरिंग कर रहे थे। इस दौरान गांव निवासी राजेंद्र कुमार (33) के सीने में गोली लगने से वह मुंह के बल गिर पड़े। दुल्हन पक्ष के लोग फौरन उसे पास के एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। ग्रामीणों की सूचना पर देर रात 1:30 बजे पुलिस पहुंची और दूल्हे की पिता समेत अन्य लोगों से पूछताछ शुरू की। जांच में पता चला कि दूल्हे के दोस्त और रिश्तेदार तमंचे से हर्ष फायरिंग कर रहे थे। गोली लगने के बाद सभी मौके से भाग निकले। पुलिस की एक टीम आरोपियों को पकड़ने के लिए दूल्हे के गांव कन्नौज रवाना हो गई है।

Bansal Saree

बिल्हौर थाना प्रभारी शैलेंद्र निगम ने बताया कि मृतक चार भाई हैं। सभी दूसरे जिलों में रहकर नौकरी करते हैं। दिल्ली में रहने वाले भाई सूचना के बाद कानपुर के लिए रवाना हुए हैं। आने के बाद तहरीर देंगे तो एफआईआर दर्ज की जाएगी। शव का पंचायतनामा करने के बाद पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

हर्ष फायरिंग में गांव के युवक की मौत होते ही बाराती भाग खड़े हुए। शादी में सिर्फ दूल्हा और उसके परिवार के लोग बच्चे थे। आनन-फानन में शादी की सभी रस्में पूरी कराई गई और भोर में ही बारात विदा कर दी गई। पुलिस ने दूल्हे के भाई समेत अन्य को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इसके साथ ही आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।