जौनपुर:20 हजार रूपए नहीं दे सका पिता, इलाज के अभाव में सरकारी अस्‍पताल में बेटे ने तोड़ दिया दम

बुजुर्ग के बेटे को आक्‍सीजन की थी जरूरत अस्‍पताल स्‍टाफ ने मांगे 20 हजार रूपए

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना संक्रमण्‍ के बीच यूपी में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं का बुरा हाल है। जौनपुर जिले में बूढ़ा पिता डाक्‍टर को 20 हजार रूपए  नहीं दे सका डाक्‍टरों ने समय पर इलाज भी शुरू नहीं किया। नतीजा यह हुआ कि बीमार बेटे ने आक्‍सीजन के अभाव में दम तोड़ दिया। जौनपुर में जिला प्रशासन एक ओर दावा कर रहा है कि जिले में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की कोई कमी नहीं है वहीं दूसरी ओर सरकारी अस्‍पताल में ही लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है।

Devi Maa Dental

जौनपुर में सही समय पर ऑक्सीजन न मिलने के कारण युवक ने दम तोड़ दिया। प्रशासन का दावा है कि जनपद में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध है वहीं दूसरी तरफ इसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही है।

बताया जा रहा है कि जौनपुर के मल्हनी बाजार से बुजुर्ग बीमार युवक को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा था। बुजुर्ग द्वारा बताया गया कि वह पहले ही दूसरे डॉक्टर को दिखाया था। डॉक्टर द्वारा यह बताया गया था कि इसको ऑक्सीजन चाहिए। इस वजह से वह मरीज को लेकर जिला अस्पताल आए थे। यहां आने के बाद डॉक्टरों ने उनसे पर्चा बनवाया।

Bansal Saree

बुजुर्ग परिजन बुद्धिराम का आरोप है कि डॉक्टरों द्वारा ₹20,000 भी मांगे गए। बुजुर्ग व्यक्ति ने डॉक्टर को बताया कि उसके पास लगभग 17-18000 रुपये उपलब्ध हैं और वह बाकी के पैसे बाद में दे देंगे। डॉक्टरों ने उन्हें इंतजार करने को कहा। दोपहर 3:00 बजे से इंतजार करते-करते शाम के 5:00 बज गए। इलाज के अभाव में देर शाम युवक ने दम तोड़ दिया।