परीक्षा कक्ष में छात्र इन बातों को याद रखें तो नहीं होंगे असफल, प्रधानाचार्य लोकेन्‍द्र नाथ ने बताए ये अचूक उपाय  

भरत जी सरस्‍वती विद्या मन्दिर इंटर कालेज आंवला बरेली के प्रधानाचार्य से न्‍यूज टुडे नेटवर्क की वार्ता 
 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी करने के बाद छात्रों में परीक्षा देने के समय को लेकर चिंताएं अक्‍सर पनप जाती हैं। भले ही छात्रों ने परीक्षाओं की तैयारियों को भलीभांति पूर्ण किया हो। सभी प्रश्‍नों और पाठ्यक्रमों की बेहतर ढंग से तैयारी की हो। फिर भी ऐन परीक्षा के दिन या परीक्षा देते समय अक्‍सर छात्र नर्वस महसूस करके जल्‍दबाजी में पहले से की गयी तैयारियों का प्रयोग परीक्षा के दिन नहीं कर पाते हैं। छात्रों की इसी समस्‍या के समाधान के लिए न्‍यूज टुडे नेटवर्क ने भरत जी सरस्‍वती इंटर कालेज आंवला बरेली के प्रधानाचार्य लोकेन्‍द्र नाथ शर्मा से वार्ता की। इस दौरान प्रधानाचार्य ने परीक्षा के दिन छात्रों को क्‍या करना चाहिए और क्‍या नहीं करना चाहिए इन बातों को लेकर कई टिप्‍स दिए।

Devi Maa Dental

प्रधानाचार्य लोकेन्‍द्र नाथ शर्मा ने बताया कि परीक्षा के दिन छात्रों को पूरी तैयारी के साथ भयमुक्‍त होकर परीक्षा कक्ष में प्रवेश करना चाहिए और बिना नर्वसता के साथ परीक्षा देनी चाहिए। परीक्षा का प्रश्‍नपत्र मिलते ही पहले प्रश्‍न से ही छात्र प्रश्‍नों को हल ना करें। सबसे पहले पूरे प्रश्‍नपत्र को सही ढंग से पढ़ लें। जिन प्रश्‍नों के उत्‍तर आपको सर्वाधिक याद हों और जो प्रश्‍न आपको भली भांति आते हों सबसे पहले छात्रों को वे ही प्रश्‍न हल करने चाहिए। इस दौरान छात्रों को एक बात विशेष रूप से ध्‍यान में रखना चाहिए कि प्रश्‍नों के उत्‍तर प्रश्‍न पत्र के क्रम में ही हल किए जाएं। छात्रों को उसी पेन या कलम से परीक्षाओं का अभ्‍यास करना चाहिए जिससे वह परीक्षा देने वाला हो। इस प्रक्रिया से परीक्षाओं में लेखन क्षमता बेहतर होती है।

पाठ्यक्रम में दिए गए विषयों के प्रश्‍नों के उत्‍तरों को लिखकर पहले से याद कर लेना चाहिए। सबसे पहले कठिन विषयों के प्रश्‍नों को लिखकर और पढ़कर अभ्‍यास करना चाहिए। परीक्षा देते समय विद्यार्थी इस बात का विशेष ध्‍यान रखें कि परीक्षा प्रश्‍न पत्र को परीक्षा समय समाप्‍त होने से 15 मिनट पहले ही समाप्‍त कर लेना चाहिए व हल किए गए प्रश्‍नों के उत्‍तरों दोबारा अध्‍ययन करें। परीक्षा की उत्‍तर पुस्तिका में विशेष बातें दर्शाने के लिए काले रंग के हेडिंग का प्रयोग करें व उनको रेखांकित भी कर दें। प्रश्‍न पत्र में पूछे गए प्रश्‍नों के अनुसार यदि आवश्‍यकता हो तो चित्रों व आंकड़ों को भी स्‍पष्‍ट रूप से दर्शा दें। प्रधानाचार्य लोकेन्‍द्र नाथ शर्मा के द्वारा दिए गए इन टिप्‍स को यदि परीक्षा देते समय छात्र याद रखें तो निश्चित रूप से परीक्षाओं में छात्र सफल होंगे।

Bansal Saree