पूर्व सीएम अखिलेश यादव बोले- श्‍मशानों में लाशों के ढेर लगे, सरकार आपदा को अवसर बनाकर जेबें भर रही

दो दिनों पहले संक्रमित हुए थे अखिलेश यादव

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सपा मुखिया और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि कोरोना काल में अव्‍यव्‍थाओं के शिकार प्रदेश में सरकार जनता के लिए कोई व्‍यवस्‍थाएं नहीं कर पा रही है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि सरकार अपनी जिम्‍मेदारी दूसरों पर डालकर काम करने से बच रही है। कहा कि लोग बेमौत मर रहे हैं श्‍मशानों में लाशों के ढेर लगे हैं, अस्‍पतालों में बेडों और दवाईयों की कमी है। सरकार ने स्‍वास्‍थ्‍य ढांचे में कोई सुधार भी नहीं किया है।

Devi Maa Dental

हाल ही में दो दिनों पहले कोरोना संक्रमित अखिलेश यादव ने शुक्रवार को सरकार पर हमला बोला। कहा कि भाजपा सरकार की संवेदनहीनता से कोरोना महामारी का प्रकोप दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। हर तरफ अव्यवस्था है और आपदा को अवसर बना जेब भरने में लगे सत्ता संरक्षितों के अलावा अपराधियों के भी पौ बारह हैं। भाजपा सरकार में न स्वास्थ्य की सुरक्षा है और नहीं जानमाल की।

सरकार अपनी नाकामियों की वजह से दूसरों की जान जोखिम में अवश्य डाल रही है। अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेंटीलेटर की भी कमी है। डॉक्टर भी बड़ी संख्या में संक्रमित हो रहे हैं। इस बार व्यवस्था और उपचार के नाम पर शासन-प्रशासन के हाथपांव फूले हैं। जिन्हें महामारी से बचाव तथा प्रबंधन का काम सौंपा गया है, वे खुद अपनी जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं। न उनके फोन उठते है, न वे समय से मरीजों की देखभाल करते हैं। कानपुर में कोरोना संक्रमितों से भी चुनाव ड्यूटी कराई गई है। किसी ने दो दिन तो किसी ने चार दिन काम किया।

Bansal Saree

इस लापरवाही से गांवों में संक्रमण फैल रहा है। एक ही दिन में इटावा में विधायक समेत 19 लोग संक्रमित मिले है। मेरठ में जिला उद्यान अधिकारी सहित चार लोगों की मौत हुई। गोरखपुर में 10 मरे जबकि एक दिन में 572 नए केस मिले। वाराणसी में 1376 कानपुर में 1274 नए केस एक दिन मे मिले। लखनऊ में तो सारे रिकाडर् टूट गए। राजधानी में सबसे ज्यादा 5433 नए मरीज एक दिन में मिले। अब तक कुल 1,22,118 मामले आए जिनमें 1384 मौंते हुई है।