पीएम मोदी के निरीक्षण के 36 घंटे बाद ही धड़ाम से गिर पड़ी वाराणसी के अस्‍पताल की फाल्‍स सीलिंग

निर्माण में लापरवाही सामने आने पर लीपापोती में जुटा प्रशासन

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। वाराणसी के जिस अस्‍पताल का खुद पीएम मोदी ने जायजा लिया था उस अस्‍पताल की फाल सीलिंग महज 36 घंटे के भीतर ही गिर गयी। करीब 36 घंटे पहले ही फाल सीलिंग को लगाया गया था। गुरूवार को ही प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी इस अप्‍ताल का उद्घाटन किया था। गनीमत रही कि हादसे के वक्‍त वहां कोई मरीज या तीमारदार नहीं था। निर्माण में लापरवाही सामने आने पर अब अस्‍पताल प्रशासन मामले की लीपापोती में जुट गया है। अस्‍पताल के प्रोफेसर केके गुप्‍ता ने बताया कि फाल सीलिंग गिरी नहीं है उसे खोला गया था।

Bansal Saree

पीएम मोदी ने 15 जुलाई को किया था निरीक्षण

45.50 करोड़ रुपए की लागत से बने 100 बेड के MCH विंग का 15 जुलाई को प्रधानमंत्री मोदी ने BHU में सभा के बाद निरीक्षण किया था। उनके निरीक्षण के मद्देनजर MCH विंग का एक-एक कोना चेक किया गया था। इसके बावजूद नवनिर्मित बिल्डिंग की फॉल्स सीलिंग का गिरना कई सवाल खड़े कर रहा है।

Devi Maa Dental

MCH विंग में लोकार्पण के अगले दिन यानी 16 जुलाई को ओपीडी शुरू करने की बात एमएस प्रो. केके गुप्ता ने कही थी। फिलहाल ओपीडी शुरू नहीं हो पाई है और अब एमएस का कहना है कि 19 जुलाई से ओपीडी शुरू करा दी जाएगी।

एमएस प्रो. केके गुप्ता ने कहा कि फॉल्स सीलिंग गिरी नहीं थी बल्कि खोली गई थी। फॉल्स सीलिंग के अंदर से ही टेलीफोन और इंटरनेट का केबल वगैरह सब ले जाना था। जब उनसे पूछा गया कि अगर खोली गई थी तो फॉल्स सीलिंग टूट कर गिर क्यों गई, इस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा और यही जवाब दिया कि सब कुछ दुरुस्त कराया जा रहा है। इसके साथ ही MCH विंग में फिलहाल किसी की भी आवाजाही प्रतिबंधित की गई है।