कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष बोले- सीएम योगी को राज्‍य के हालात देखने हैं तो अपना मोबाइल नम्‍बर जारी करें

प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस ने सूबे की भाजपा सरकार पर साधा निशाना

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष ने सीएम योगी पर निशाना साधते गुरूवार को कहा है कि सीएम योगी अपना मोबाइल नम्‍बर जारी करें उन्‍हें पता लग जाएगा कि राज्‍य के हालात क्‍या हैं। प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने प्रदेश की यूपी सरकार पर जनता से झूठ बोलने का आरोप लगाया है।

Devi Maa Dental

लल्‍ू ने कहा कि न अस्पताल न बेड, न ऑक्सीजन न दवाई न वेंटिलेटर। लोग सड़कों पर मर रहे हैं। IAS अधिकारी की भी मौत इलाज के अभाव में हो गई। इसका कौन जिम्मेदार है? मुख्यमंत्री को मैं खुली चुनौती देता हूं कि वो अपना व्यक्तिगत नंबर जारी करें। स्थिति पूरी तरह स्पष्ट हो जाएगी कि यूपी के हालात कितने भयावह हैं। मुख्यमंत्री जी झूठ बोलना बंद करें। विपक्ष के साथ ही लोगों को धोखा देना बंद करें।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गांव-गांव महामारी तेजी के साथ फैल चुकी है। कहीं भी RT-PCR जांच की कोई व्यवस्था नहीं है। एक-एक दिन की जांच रिपोर्ट 5-5 और 6-6 दिन में आ रही है। ऑक्सीजन पैदा करने वाला भारत पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं दे पा रहा है। रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाले भारत के इंजेक्शन की दूसरे देशों में सप्लाई की जा रही है। RT-PCR की टेस्टिंग घटा दी गई है। क्यों घटाया है? कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग नहीं हो रही है ऐसा क्यों? अजय लल्लू ने कहा कि STF ने खुलासा किया है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन दस गुने से अधिक दाम पर बिक रहे हैं। झांसी, कानपुर, मेरठ, गाजियाबाद, लखनऊ और गोरखपुर में एक-एक लाख में इंजेक्शन बिकने की खबर मीडिया ने प्रकाशित किया। मुख्यमंत्री जी आप किस कुम्भकर्णी नींद में सो रहे हैं?

Bansal Saree

भाजपा विधायकों ने खुद खोली पोल

लल्लू ने कहा कि BJP के तीन विधायकों की मौत हो चुकी है। विधायकों ने डॉ. हर्षवर्धन और मुख्यमंत्री को खुद पत्र लिखकर यह कहा कि हमारे इलाज की व्यवस्था हो। उनके परिवार का आरोप है कि 5 कालीदास मार्ग पर अधिकारियों को फोन करते रहे, किसी ने जवाब नहीं दिया। मोहनलालगंज के सांसद के भाई की मौत हो गयी। सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट लगातार सरकार के तानाशाही रवैये पर तल्ख टिप्पणी कर चुकी है। फिर भी सरकार- मेरा कायदा, वरना कोई कायदा नहीं, पर अड़ी हुई है। आप कहते हैं कि विपक्ष राजनीति कर रहा है। पहली बार जब यह कोरोना आया था उस समय तो आपदा थी। इस आपदा में विशेषज्ञों के कहने के बाद भी आप द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई।

फोन नहीं उठा रहे अफसर

प्रेसवार्ता में कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता दीपक सिंह ने इस भयावह महामारी में योगी सरकार के झूठ की कलई खोलते हुए सीएमओ लखनऊ के सीयूजी फोन नंबर पर अपने फोन से मिलाया, जिसका कोई जवाब नहीं मिला। उन्होंने कहा कि सरकार में दो मंत्री, चार विधायक, सैंकड़ों की संख्या में पत्रकार, डॉक्टर, साहित्यकार, आईएएस, स्वास्थ्यकर्मी एवं पुलिसकर्मी सहित हजारों प्रदेशवासियों की कोरोना से दुखद मौत हो चुकी है। लाखों की संख्या में लोग आक्सीजन, बेड और दवाई के लिए तड़प रहे हैं।