पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह की जयंती पर बोले सीएम योगी- हर समय सरकार किसानों के साथ खड़ी है

कोरोना काल में भी किसानों को राहत दे रही है सरकार

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की 34वीं पुण्‍यतिथि के मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्‍नाथ ने कहा है कि कोरोना काल में जब जन जीवन अस्‍त व्‍यस्‍त है ऐसे समय में भी सरकार ने किसानों को राहत देने का कम किया है। सीएम योगी ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की पुण्‍यतिथि पर उन्‍हें श्रद्धांजलि देते हुए यह बातें कहीं। इस मौके पर प्रदेश अध्‍यक्षव कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक समेत अन्‍य तमाम वरिष्‍ठ नेता भी मौजूद थे। सीएम ने कहा कि किसानों को दिक्‍कत ना होने पाए इसके लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। किसानों के कल्‍याण के लिए सरकार ने कई योजनाएं संचालित की हुयी हैं। हाल ही में किसानों को किसान सम्‍मान निधि की किश्‍त भी जारी कर दी गयी है। कहा कि किसानों के मसीहा रहे पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की आज पुण्यतिथि है। उन्होंने पूरा जीवन किसानों के हित में ही काम किया और उनके ही नाम न्यौछावर कर दिया।

Devi Maa Dental

सीएम योगी ने कहा, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह किसानों के बारे में ध्यान केंद्रित करके काम करते थे। उनके कार्यों को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार लगातार किसानों की हित में कार्य कर रही है। अभी हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने खेती के लिए आवश्यक DAP खाद पर सब्सिडी का दाम 1,200 प्रति बोरी घोषित करके किसानों के हितों के प्रति समर्पित सरकार के संकल्प को आगे बढ़ाया है। पिछले 7 सालों के दौरान केंद्र की सरकार ने किसानों के हित में व ग्रामीण क्षेत्रों के हित में जितने फैसले लिए हैं, आजादी के बाद किसी भी सरकार ने उतने निर्णय नहीं लिए होंगे। किसानों के प्रति समर्पित भाव के साथ उत्तर प्रदेश सरकार भी प्रधानमंत्री के दिशा-निर्देश का पालन कर रही है। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के गृह जनपद में चीनी मिल के जीर्णोद्धार की जाने व अन्य कार्यों को सरकार लगातार बढ़ा रही है।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने तय किया है कि बिजली के दाम नहीं बढ़ेंगे। गांव, किसान व श्रमिक के लिए प्रदेश सरकार पूरी ईमानदारी से कार्य कर रही है। कोरोना कालखंड में भी प्रदेश के गेहूं क्रय केंद्र संचालित हैं। प्रदेश में अब तक 38 लाख मी. टन से अधिक गेहूं क्रय हुआ है। किसानों के खाते में DBT (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) के माध्यम से 72 घंटे के अंदर उनकी उपज का भुगतान 1,975 प्रति कुंटल समर्थन मूल्य के साथ किया जा रहा है। वर्तमान में प्रदेश में 2.42 करोड़ से अधिक किसान पीएम कृषि सम्मान निधि का लाभ उठा रहे हैं। प्रदेश सरकार ने बीते 4 साल में 1.35 लाख करोड़ रुपए से अधिक का गन्ना मूल्य भुगतान कर किसानों के जीवन में खुशहाली लाने का काम किया है।

Bansal Saree