पंचायत चुनाव ड्यूटी में लगे कर्मियों की संक्रमण से मौत पर दुखी हैं बसपा प्रमुख मायावती

सरकार से बसपा प्रमुख ने की है ये मांग

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में पंचायत चुनावों के दौरान हुयी मतदान कर्मियों की कोरोना संक्रमण से हुयी मौतों पर बसपा प्रमुख मायावती दुखी हैं। बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि सरकार पंचायत चुनावों को थोड़ा आगे बढ़ा देती तो पंचायत चुनाव की ड्यूटी में लगे मतदानकर्मियों की मृत्‍यु नहीं होती। मायावती ने मांग की कि पंचायत चुनावों में जिन कर्मचारियों की मृत्‍यु हुयी है उन्‍हें उचित मुआवजे के साथ मृतक आश्रित कोटे से सरकार उनके परिजनों को नौकरी उपलब्‍ध कराए।

Devi Maa Dental

मायावती ने सोशल मीडिया पर ट्वीट करके चुनावों के दौरान हुयी मौतों पर शोक जताते हुए प्रदेश सरकार से यह मांग की है। अपने ट्वीट में मायावती ने कहा है कि इन कमियों की मौत होना अत्यंत दुःखद है। मायावती ने मांग की कि राज्य सरकार उन सरकारी कर्मियों के आश्रितों को नौकरी एवं आर्थिक मदद मुहैया कराए, जिनकी पंचायत चुनाव में तैनाती के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण मौत हो गई। उन्होंने कहा, इसके साथ ही, अब कोरोना वायरस प्रकोप के गांव-देहात में भी काफी फैलने की आशंका है। ऐसी स्थिति में बसपा की सलाह है कि उत्तर प्रदेश सरकार शहरों के साथ-साथ देहात में भी कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाए।