बोर्ड एग्‍जाम: डरें नहीं, पाजिटिव सोच के साथ ऐसे करें परीक्षाओं की तैयारी, इन प्रधानाचार्य से जानिए टिप्‍स

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी के लिए छात्र अक्‍सर परेशान रहते हैं। पूरे सत्र की पढ़ाई के दौरान बोर्ड परीक्षाओं के सिर पर आ जाने से छात्र परीक्षाओं की तैयारी को लेकर परेशान हो उठते हैं। ऐसे में छात्र अपनी दैनिक दिनचर्या को भी प्रभावित कर लेते हैं। असमय पढ़ना, समय पर ना सोना, देर से जागना और मनोरंजन के लिए समय ना निकाल पाना छात्रों के लिए परीक्षाओं के समय यह आम बात हो जाती है। हालांकि वर्तमान समय में कोरोना काल के कारण टाली गयी बोर्ड परीक्षाओं से छात्रों को परीक्षाओं की बेहतर तैयारी करने का और अधिक समय मिल गया है। ऐसे में छात्र परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए किस तरह परीक्षाओं की तैयारी करें। इस विषय पर न्‍यूज टुडे नेटवर्क ने एजीएम इंटर कालेज बिहारीपुर हीरा बीसलपुर पीलीभीत के प्रधानाचार्य अतुल गंगवार से वार्ता की।

Devi Maa Dental

प्रधानाचार्य अतुल गंगवार ने बताया कि छात्रों परीक्षा के समय छात्रों को घबराना नहीं चाहिए। परीक्षा जैसे जैसे नजदीक आती है वैसे वैसे कई छात्र परीक्षाओं का डर अपने मन में बैठा लेते हैं। बताया कि परीक्षाओं के समय छात्रों को अपने पाठ्यक्रम बेहतर ढंग से याद करना चाहिए। सुबह के समय सूर्योदय से पहले यदि छात्र पढ़ाई करें तो यह सबसे उत्‍तम समय होता है। सुबह के समय याद किया गया पाठ जल्‍दी याद होता है और सर्वाधिक स्‍मरण भी रहता है।

उन्‍होंने बताया कि इन दिनों छात्रों के अपने सम्‍पूर्ण दिन का टाइम टेबिल निर्धारित करना होता है। पढ़ाई के समय छात्रों को संतुलित आहार लेना चाहिए क्‍योंकि अधिक भोजन करने से नींद भी अधिक आती है और यदि भूखे पेट पढ़ाई करें तो पढ़ाई में मन नहीं लग पाता और पाठ याद नहीं हो पाते। सबसे विशेष बात यह है कि सुबह के समय पढ़ाई शुरू करने से पूर्व छात्रों को कुछ व्‍यायाम और सूर्य नमस्‍कार आदि अवश्‍य करना चाहिए इससे शारीरिक और मानसिक सुस्‍ती दूर हो जाती है और मस्तिष्‍क तरोताजा हो जाता है।

Bansal Saree

बताया कि शोरगुल वाले स्‍थानों पर पढ़ाई ना करें। पढ़ाई के लिए ऐसा शांत माहौल चुनें जहां अनावश्‍यक रूप से कोई उन्‍हें डिस्‍टर्ब ना कर सके। परीक्षाओं के समय टाइमटेबल बनाकर विषयों की पढ़ाई करनी चाहिए। सभी विषयों को सूचीवार करके महत्‍वपूर्ण विषयों को ऊपर से शुरू करके सूची बना लें और इस सूची के अनुसार प्रत्‍येक विषय की पढ़ाई का टाइम टेबिल भी निर्धारित कर लें। इसी सूची और टाइमटेबिल के अनुसार परीक्षाओं के समय विषयों के पाठ्यक्रम को याद करने से और अधिक सहायता मिलेगी।

परीक्षाओं की तैयारी करते हुए इन दिनों में अक्‍सर छात्र मानसिक बोझ महसूस करने लगते हैं। जिससे दिनचर्या खराब होने का डर रहता है। ऐसी स्थिति से बचने के लिए छात्रों को मनोरंजन का भी ध्‍यान रखना चाहिए। मसलन कुछ देर संगीत और समाचार देखने के साथ साथ खेलों में भी व्‍यस्‍त रहना चाहिए। जिससे उन्‍हें देश दुनियां के ताजा हालातों के बारे में सामान्‍य ज्ञान भी मिलेगा और पढ़ाई के बोझ से कुछ देर के लिए मन भी हटेगा। हालांकि अधिक समय तक मनोरंजन करने से याद किया हुआ पाठ फिर भूल जाने का डर भी रहता है, इसलिए मनोरंजन का समय भी छात्र निर्धारित करें। परीक्षाओं के समय यदि छात्र इन बातों को ध्‍यान में रखकर तैयारी करें तो परीक्षाओं के लिए बेहतर तैयारी करके सफलता भी प्राप्‍त कर सकते हैं।