आज प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में तय होगी भाजपा की चुनावी रणनीति, राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा वर्चुअली जुड़ेंगे

पंचायत चुनावों की जीत को भुनाना चाहती है भाजपा

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्‍तर प्रदेश के 2022 विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा ने अपना महाअभियान प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के काशी दौरे के साथ शुरू कर दिया है। चुनावी समर उतरी भाजपा यूपी चुनाव की मजबूत रणनीति बनाकर सत्‍ता में वापसी चाहती है। इसी रणनीति को फाइनल करने के लिए आज भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक लखनऊ में होने जा रही है। प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍वतंत्रदेव सिंह की अध्‍यक्षता में होने वाली इस बैठक में राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा भी वर्चुअली जुड़ेंगे। बैठक के समापन सत्र में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ मौजूद रहेंगे।

Bansal Saree

कार्य समिति की बैठक से पहले गुरुवार की शाम पार्टी दफ्तर में सीएम योगी और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव की अध्यक्षता में बैठक हुई थी। इसमें कार्य समिति में पास होने वाले राजनीतिक प्रस्ताव पर चर्चा हुई।

पंचायत चुनावों की जीत को भुनाने पर जोर

Devi Maa Dental

पार्टी पंचायत चुनाव में मिली जीत को मेगा इवेंट बनाएगी। कार्य समिति से पूर्व हुई बैठक में इस बात को लेकर चर्चा हुई कि पार्टी विधानसभा चुनाव से पहले पंचायत चुनाव में मिली जीत का पॉलिटिकल माइलेज की रुपरेखा तैयार करेगी। कार्य समिति में इस चुनाव में जीत हासिल करने वाले कार्यकर्ताओं को बधाई दी जाएगी, साथ ही उन्हें सम्मानित करने के लिए मेगा प्लान भी तैयार होगा। पंचायत जिला अध्यक्ष और ब्लाक प्रमुख के चुनावों में जीत के जरिए भाजपा ने ग्रामीण इलाकों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है, जो किसी भी राजनीतिक दल के चुनावी किस्मत का फैसला करती है। भाजपा इस जीत के जोश को कायम रखना चाहती है।

मोदी की किसान योजना पर फोकस

पार्टी के लिए पश्चिमी यूपी में कुछ किसानों संगठनों का प्रदर्शन परेशानी का सबब बन रहा है। बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार किसानों को लेकर कोई बड़ी योजना लेकर आ रही है। कार्य समिति में इस प्रधानमंत्री कृषि योजना पर विशेष और विस्तृत चर्चा होगी। पार्टी मानती है कि किसानों के लिए भाजपा ने बहुत कुछ किया और इस योजना के जरिए भी किसानों को बड़ा फायदा मिलेगा। लिहाजा इसकी रणनीति पर चर्चा होनी है।

भाजपा तैयार कर रही मिशन 2022 की रणनीति

भाजपा की कार्य समिति में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा होगी। सूत्रों की मानें तो इस बैठक में विधानसभा चुनाव की तैयारियों का खाका खींचा जाएगा। पार्टी चुनाव में किन मुद्दों को लेकर जाएगी इसको लेकर भी चर्चा होनी है। इस बार यूपी में नया नारा होगा। विकास के जरिए नया यूपी बनाने को लेकर भाजपा 'नया उत्तर प्रदेश  का नारा दे सकती है।