COVID-19: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से मांगी रिपोर्ट, जानें क्‍या है पूरी खबर

क्वारंटाइन सेंटरों (Quarantine Centers) की स्थिति जानने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) से इसका जवाब मांगा है। मुख्य न्यायमूर्ति गोविंद माथुर एवं न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा की खंडपीठ ने मुख्य स्थाई अधिवक्ता के मामले में सरकार को 11 मई तक जानकारी देने को कहा है। हाईकोर्ट के अधिवक्ता
 | 
COVID-19: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से मांगी रिपोर्ट, जानें क्‍या है पूरी खबर

क्वारंटाइन सेंटरों (Quarantine Centers) की स्थिति जानने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने उत्‍तर प्रदेश सरकार (UP Government) से इसका जवाब मांगा है। मुख्य न्यायमूर्ति गोविंद माथुर एवं न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा की खंडपीठ ने मुख्य स्थाई अधिवक्ता के मामले में सरकार को 11 मई तक जानकारी देने को कहा है। हाईकोर्ट के अधिवक्ता गौरव कुमार गौर ने ई-मेल (E-mail) के माध्यम से प्रयागराज के क्वारंटाइन सेंटरों की खराब स्थिति का हवाला दिया है।
COVID-19: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश सरकार से मांगी रिपोर्ट, जानें क्‍या है पूरी खबरअधिवक्ता गौरव कुमार गौर ने ई-मेल पत्र में लिखा है कि लूकरगंज रहने वाले इंजीनियर की मौत कोरोना वायरस (Corona virus) से हो गई। साथ ही उनकी पत्नी में भी कोरोना वायरस की पुष्‍टी हुई है। पत्नी ने उन्हें बताया है कि उनके परिवार के सदस्य को जिस क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया, उसकी स्थिति काफी खराब है। क्वारंटाइन सेंटर में साफ-सफाई और अन्य सुविधाओं की कमी है। इसके अलावा उन्होंने पत्र में एक वीडियो वायरल (Video viral) होने की भी जानकारी दी है। अधिवक्ता गौरव गौर का कहना है कि इंजीनियर की पत्नी उन्हें बताया है कि उनके पति का सही से इलाज नहीं हुआ। इस मामले की सुनवाई 11 मई को की जाएगी।

Bansal Saree

यहाँ भी पढ़े

COVID-19: सीएम योगी आदित्यनाथ ने की सभी श्रमिक एवं कामगारों से यह की अपील

Devi Maa Dental

BAREILLY: मनरेगा में जागरूक महिलाओं को मेट बनने का मौका, प्रतिदिन मिलेगें इतने रुपये