Bareilly: सब्जी के उचित दामों के लिए अब किसानों के क्षेत्रों में खोली जाएंगी सब्जी मंडियां

लॉकडाउन (lockdown) लगने के कारण सब्जी उगाने वाले किसानों को बहुत दिक्कत हो गई है। किसानों को अपनी सब्जी बेचने शहर आना पड़ता था उसके बाद भी इन्हें उचित दाम (price) नहीं मिलते थे। किसानों को अब सब्जियां बेचने के लिए शहर नहीं आना पड़ेगा। उनके लिए उनके क्षेत्र में ही उप मंडियां खोली जाएंगी।
 | 
Bareilly: सब्जी के उचित दामों के लिए अब किसानों के क्षेत्रों में खोली जाएंगी सब्जी मंडियां

लॉकडाउन (lockdown) लगने के कारण सब्जी उगाने वाले किसानों को बहुत दिक्कत हो गई है। किसानों को अपनी सब्जी बेचने शहर आना पड़ता था उसके बाद भी इन्हें उचित दाम (price) नहीं मिलते थे। किसानों को अब सब्जियां बेचने के लिए शहर नहीं आना पड़ेगा। उनके लिए उनके क्षेत्र में ही उप मंडियां खोली जाएंगी। इससे न सिर्फ उनके आने-जाने का खर्च बचेगा बल्कि समय भी बर्बाद नहीं होगा। साथ ही उन्हें सब्जियों के अच्छे दाम भी मिलेंगे।
Bareilly: सब्जी के उचित दामों के लिए अब किसानों के क्षेत्रों में खोली जाएंगी सब्जी मंडियां
डेलापीर (Delapeer) मंडी आसपास जिलों में सबसे बड़ी मंडी है, जिसमें दूरदराज के किसान न सिर्फ बेचने के लिए सब्जियां (vegetables) लेकर आते हैं। सब्जी व्यापारियों के आने से यहां बड़ी तादाद में भीड़ जुटती है। कोरोना से बचाव के लिए शारीरिक दूरी जरूरी है। ऐसे में सरकार ने निर्णय लिया है कि कोल्ड स्टोरेज (cold storage) वाले भी अब उप मंडी खोल सकेंगे। साथ ही उनके पास उप मंडी खोलने के लिए पर्याप्त जगह हो जिससे शारीरिक दूरी (social distancing) का पालन होता रहे।

Bansal Saree

जिला खाद्यान अधिकारी आनंद स्वरूप ने बताया कि सरकार चाहती है कि ज्यादा से ज्यादा उप मंडी खुलें। जिससे एक जगह पर भीड़ न जुटे। साथ ही रोजगार के अवसर पैदा हो। किसानों को उनकी सब्जियों के दाम मिल सके। एक फायदा यह भी होगा कि किसानों को बहुत ज्यादा दूर नहीं जाना पड़ेगा।