यूपी: वाराणसी में ट्रांसपोर्टर को भतीजे ने मारी गोली, मौके पर ही मौत

न्यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के वाराणसी में ट्रांसपोर्टर को उनके भतीजे ने ही गोली मारकर हत्या कर दी। ट्रांसपोर्टर की मौके पर ही मौत हो गई। वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक ने घटनास्थल का मुआयना करने के साथ ही घर के सदस्यों से घटना के बारे में पूछताछ की। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया
 | 
यूपी: वाराणसी में ट्रांसपोर्टर को भतीजे ने मारी गोली, मौके पर ही मौत

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के वाराणसी में ट्रांसपोर्टर को उनके भतीजे ने ही गोली मारकर हत्‍या कर दी। ट्रांसपोर्टर की मौके पर ही मौत हो गई। वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक ने घटनास्थल का मुआयना करने के साथ ही घर के सदस्यों से घटना के बारे में पूछताछ की। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। गोली ट्रांसपोर्टर की कनपटी पर दाएं तरफ मारी गई।

Bansal Saree

वाराणसी के लालपुर मस्जिद इलाके में चेचेरे बड़े भाई के मकान में ट्रांसपोर्ट व्यवसायी शाहिद इकबाल उर्फ मुन्ना (45) को उनके भतीजे ने ही गोली मारकर हत्या कर दी। आरोपित भतीजा फरीद उर्फ जुगनू घटना के बाद मौके से फरार हो गया।

शाहिद इकबाल के पिता दो भाई थे। दूसरे भाई से मुश्ताक और मजीद थे। दो दशक पहले मजीद की हत्या हो चुकी है। उसके दो बेटे मुश्ताक के मकान से एक मकान बाद रहते हैं। मुश्ताक अपने दो बेटों के परिवार के साथ रहते हैं। परिवार के सभी सदस्य एक-दूसरे के घर आते-जाते रहते हैं।

Devi Maa Dental

मुश्ताक के खालू की बेटी की शादी एक दिन पहले थी। इसमें मेहमान आए हुए थे। सुबह करीब 11 बजे सड़क पार के मकान से शाहिद इकबाल, उनकी पत्नी चांदरानी मुश्ताक के घर पहुंचे। घर के पिछले हिस्से में शाहिद इकबाल, मुश्ताक व अन्य सदस्य बैठकर सेब खा रहे थे। मुश्ताक ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि इसी दौरान 10 मिनट बाद उनका भतीजा फरीद उर्फ जुगनू आया। वह भी साथ बैठा था। इसी बीच आगे के कमरे में बैठे चंदौली से आए मेहमानों को विदा करने के लिए सभी उठे।

मुश्ताक के पीछे शाहिद इकबाल उर्फ मुन्ना भी उठे और साथ चलने लगे। इसी बीच जुगनू उठा और कनपटी पर असलहा सटाकर गोली मार दी। गोली लगते ही शाहिद फर्श पर गिर पड़े और जुगनू मकान के पिछले हिस्से के रास्ते से भाग निकला। पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि जमीन विवाद में मजीद की हत्या हुई थी। इसमें शाहिद इकबाल नामजद किया गया था। उक्त प्रकरण में जेल काटकर वह बाहर आया था।

हालांकि इसके बाद सभी परिवार के बीच रिश्ते सामान्य हो गए थे। एसएसपी ने बताया कि पुलिस पुराने मामले के साथ ही इधर बीच के घटनाक्रम की जानकारी ले रही है। फरीद की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।