बदायूं- डीएम ने आतिशबाजी कारोबारियों को चेताया, तेज आवाज वाली आतिशबाजी बेची तो खैर नहीं

केवल तीन दिन ही लगेगा आतिशबाजी बाजार जिले में दीपावली पर तीन दिन आतिशबाजी बेचे आने व खरीदे जाने की अनुमित प्रशासन ने इस शर्त पर दी कि जिलें में शहर, कस्बे के भीतर दुकान नहीं लगायी जायेंगी। इसके लिए एसडीएम व सीओ जिम्मेदार होंगे। बाजार, गली मोहल्लों में आतिशबाजी बिकती मिली तो संबंधित कोतवाल
 | 

केवल तीन दिन ही लगेगा आतिशबाजी बाजार

Bansal Saree
बदायूं- डीएम ने आतिशबाजी कारोबारियों को चेताया, तेज आवाज वाली आतिशबाजी बेची तो खैर नहीं
बदायूं कचहरी सभागार बैठक लेते डीएम प्रशांत कुमार

जिले में दीपावली पर तीन दिन आतिशबाजी बेचे आने व खरीदे जाने की अनुमित प्रशासन ने इस शर्त पर दी कि जिलें में शहर, कस्बे के भीतर दुकान नहीं लगायी जायेंगी। इसके लिए एसडीएम व सीओ जिम्मेदार होंगे। बाजार, गली मोहल्लों में आतिशबाजी बिकती मिली तो संबंधित कोतवाल व थानेदार जिम्मेदार होंगे। एसके फील्ड की जगह शहर से बाहर आतिशबाजी की दुकानें लगाने के लिए अफसर जगह तलाश रहे हैं। दुकान लगाने को लाइसेंस लेना जरूरी है।

कलक्ट्रेट सभागार में डीएम कुमार प्रशांत व एसएसपी संकल्प शर्मा ने अफसरों के साथ बैठक की। जिसमें सभी एसडीएम और सीओ के साथ दीपावली पर पटाखों की दुकानों, एंटी भूमाफिया, कर-करेत्तर, धान एवं मक्का खरीद के संबद्ध में वार्ता की गई। डीएम ने निर्देश दिए कि पटाखों के लिए लाइसेंस जारी करने से पहले नगर पालिका एवं नगर पंचायतों में एसडीएम व सीओ, ईओ ऐसे स्थान का चयन करें जो आवासीय बस्ती से दूर हो एवं सुरक्षित हों।

Devi Maa Dental

चिह्नित स्थल पर साफ-सफाई, लाइट की व्यवस्था रहे। पटाखा विक्रय स्थल पर फायर बिग्रेड, पानी के टैंकर की उपलब्धता के लिए कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाय। अत्यधिक आवाज वाले पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंधित रहेगा, साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि कहीं घरों में पटाखे बनाये न जा रहे हों और न ही इसका भंडारण हो रहा हो।
एडीएम वित्त एवं राजस्व नरेंद्र बहादुर सिंह, एडीएम प्रशांस ऋतु पूनिया, एससपी सिटी प्रवीन चौहान, एससपी देहात सिद्धार्थ वर्मा, सीओ सिटी विनय कुमार द्विवेदी मौजूद थे।