बरेली: ईद पर कोरोना के खात्‍मे को हुईं दुआएं, चंद खास लोगों ने अदा करायी ईद की नमाज

सादगी से घरों में मनाया गया ईद का त्‍यौहार

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली में ईद सादगी और अमन के साथ ईद मनाई गई,ईद उल फितर की नमाज़ कोविड-19 की गाइडलाइंस के मुताबिक अदा की गई,ज़्यादातर लोगो ने घरो पर ही नमाज़ अदा की,मस्जिद नोमहला में मुफ़्ती मौलाना अब्दुल बाक़ी साहब ने कोविड-19 के चलते चंद लोगों के साथ नमाज़ अदा की,वहीं बिहार कलां इज़्ज़त नगर बरेली ईदगाह में अदा की गई नमाज़ हाफिज नौशाद आलम  हाफिज इमरान रज़ा बरकाती,नजमुल एसआई खान,हाजी कबीर खान,साजिद बेग अदा की। बरेली हज सेवा समिति के संस्थापक पम्मी खान वारसी ने कहा कि मस्जिदों में कोविड-19 के मुताबिक ईद की नमाज़ अदा की गई,ज़्यादातर घरों पर लोगों ने नमाज़ अदा कर कोरोना से निजात को दुआं की और मुल्क व आवाम की सलामती के लिये ख़ुसूसी दुआएं की गई। हाफिज इमरान रज़ा बरकाती ने बताया कि बिहारक्लां इर्दगाह में 5 लोगों ने ही नमाज़ अदा की और रब की बारगाह में रो रोकर गिडगिडाकर दुआं माँगी या अल्लाह अपने बन्दों पर रहम करते हुऐ मरीज़ो को शिफ़ा दे और कोरोना से निजात दे।

Devi Maa Dental

ईदगाह में चंद लोगों की मौजूदगी में पढ़ी गयी नमाज

शुक्रवार को बरेली में ईदउल फित्र का त्योहार कोविड-19 गाइडलाइन के साए में मनाया गया। बरेली की तमाम मस्जिदों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए नमाज अदा की गई। शहर ईदगाह में भी चंद लोगों के साथ ईद की नमाज अदा की गई। बाकरगंज स्थित शहर ईदगाह पर दरगाह-ए-आला हजरत के खलीफा-ए ताजुशरिया मुफ्ती आशिक हुसैन कश्‍मीरी ने ईद की नमाज अदा कराई। इस दौरान प्रशासनिक अफसरों समेत भारी संख्या में पुलिसफोर्स मौजूद रही। नमाज के बाद मुफ्ती आशिक हुसैन ने खुतबा पढ़ा और देश में चल रहे कोरोना वायरस के प्रकोप से निजात दिलाने के लिए दुआ की  ईदगाह करबला कमेटी के जनरल सेक्रेट्री डॉ. सरताज हुसैन अब्बासी ने कहा कि सलामती और रहमत हो उस पाक नबी पर जिसने  इंसानियत को दुनिया में रहने का सही ढंग और खुदा तक पहुंचने का सच्चा मार्ग दिखाया। ईद आपसी भाईचारे और खुशियों का त्योहार है लेकिन इस साल कोरोना वायरस ने लोगों से ईद की खुशियां छीन ली हैं। शायद ही ऐसा कोई शख्स बचा हो जिसने अपने किसी रिशतेदार या दोस्त  को ना खोया हो  बहुत सारे लोग जिंदगी और मौत से अभी भी जंग लड़ रहे हैं। कमेटी के सदर महताब अली ने कहा कि मुश्किल माहौल में सभी लोग सब्र और सदगी से इसे मनाए और जल्द ही कोरोना नाम की ये महामारी इस दुनिया से खत्म हो जाए।

Bansal Saree