बरेली: संक्रमण से बचने को इस बार खुद ही बंद कर लिए कालोनियों के रास्‍ते

जिम्‍मेदार बोले- पहली लहर से लिया सबक

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। स्टेडियम रोड से सटे हुए एरिया हजियापुर में लोगों ने ईट पजाया चौराहा के पास से अंदर आने वाला रास्ता बंद कर दिया। डंडे, सीढ़ी समेत जो सामग्री मिली। उसका इस्तेमाल किया गया। रास्ता बंद करने के लिए पुलिस या प्रशासन ने नहीं कहा। बल्कि लोगों ने खुद से जागरुक होते हुए ये कदम उठाया है।

Devi Maa Dental

कोविड की पहली लहर में भी संक्रमण की दस्तक के साथ हजियापुर में लोगों ने अपने रास्तों को ब्लॉक किया था। इसबार भी ऐसा ही हुआ है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों में हजियापुर बाकी क्षेत्रों की तरह ही कोविड के शिकंजे में है। संक्रमित मिल रहे है, इलाज भी हो रहे हैं। हजियापुर के अलावा कई पॉश कॉलोनियों के लोगों ने अपने गेट को भी बाहरियों के लिए बंद कर रखा है। पूछताछ होने के बाद ही गार्ड अंदर आने दे रहे हैं। ऐसा सिर्फ कोविड से बचाव के लिए उठाया गया एहतियातन एक कदम बताया जा रहा है।

रामपुर बाग के बंद हुए गेट, बाद में खुलवाए

Bansal Saree

कुछ दिन पहले रामपुर बाग कॉलोनी के लोगों ने भी विकासभवन वाली सड़क की तरफ खुलने वाले अपने गेट को बंद करवाए दिए थे। चूंकि वह सभी रास्तें सामान्य लोग आवाजाही के लिए इस्तेमाल करते हैं, इसलिए नगर निगम के कर्मचारियों ने बाद में गेट खुलवा दिए थे।