Bareilly: नदियों में शव प्रवाहित होने से रोकने को मेयर ने बनायी पार्षदों व अफसरों की समिति

कोविड मरीजों का नि:शुल्‍क अंतिम संस्‍कार कराएगी समिति

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। नगर निगम क्षेत्र में नदियों में शवों को प्रवाहित किए जाने से रोकने के लिए मेयर डा उमेश गौतम की ओर से नगर निगम पार्षदों की समिति बनाकर जिम्‍मेदारी तय कर दी गयी है। मेयर डा गौतम ने सोमवार को पार्षदों की बैठक करके इस समिति का गठन किया है। मेयर ने कहा कि किसी भी व्‍यक्ति को शवों के अंतिम संस्‍कार कराने में कोई दिक्‍कत ना आए और शवों को नदियों में ना प्रवाहित किया जाए इसके लिए नगर निगम के पार्षदों की एक समिति का गठन कर दिया गया है। यह समिति शहर भर के शवदाह स्‍थलों की निगरानी करेगी। मेयर ने कहा कि कोविड से हुई मौत के अंतिम संस्‍कार की व्‍यवस्‍था नगर निगम की ओर से नि:शुल्‍क की गयी है। फिर भी यदि कोई शव का अंतिम संस्‍कार विधि विधान से नहीं करा पाता है तो ऐसे लोगों की निगरानी यह समिति करेगी।

Devi Maa Dental

सोमवार को पार्षदों की बैठक करके मेयर गौतम पार्षदों की समिति बनाकर शहर भर के शवदाह स्‍थलों की जिम्‍मेदारी इन सदस्‍यों को सौंप दी है। इस समिति के अध्‍यक्ष मेयर डा उमेश गौतम ही होंगे। इसके अलावा पार्षद चित्रा मिश्रा, पार्षद छंगा मल मौर्य , पार्षद अजय चौहान, पार्षद मुनेन्‍द्र यादव, पार्षद कमिपलकांत सक्‍सेना, पार्षद महेश राजपूत, पार्षद नरेश पटेल, पार्षद अतुल कपूर, पार्षद सुभाष वर्मा, पार्षद राधे गुर्जर, अपर नगर आयुक्‍त अजीत सिंह, पर्यावरण अभियंता संजीव प्रधान को समिति में सदस्‍य के तौर पर नामित किया गया है। इन सदस्‍यों को अपने अपने क्षेत्र में आने वाले शवदाह स्‍थलों और नदियों की निगरानी करनी होगी।