बरेली: शहामतगंज में डिग्री कालेज, इंटर कालेज और मन्दिर के पास खुली शराब की दुकान हटाने की मांग

साहू रामस्‍वरूप डिग्री कालेज और साहू गोपीनाथ इंटर कालेज की प्रधानाचार्य समेत नागरिकों ने किया प्रदर्शन

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली शहर में स्‍कूल और मन्दिर के पास शराब की दुकान खुलने पर स्‍कूल की प्रधानाचार्या और स्‍थानीय लोग विरोध में उतर आए हैं। स्‍कूल की प्रधानाचार्या और स्‍थानीय लोगों ने बुधवार को शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। आरोप है कि स्‍कूल और मन्दिर से चंद कदमों की दूरी पर ही नियमों को ताक पर रखते हुए शराब की दुकान खोल दी गयी है।

Devi Maa Dental

दरअसल शहामतगंज क्षेत्र में साहू गोपीनाथ बालिका इंटर कालेज से मात्र 40 कदम की दूरी पर शराब की नई दुकान खोल दी गयी है। यहीं से कुछ कदमों की दूरी पर ही साहू रामस्‍वरूप महिला महाविद्यालय स्थित है यही नहीं पास ही एक मन्दिर भी मौजूद है। नियमों को ताक पर रखकर मन्दिर और स्‍कूल के पास शराब की दुकान खोलने की अनुमति प्रशासन द्वारा जारी कर दी गयी है।

नियमानुसार स्‍कूल या शैक्षिक संस्‍थान और धार्मिक स्‍थलों के सौ मीटर के दायरे में शराब की दुकान आवंटित नहीं की जा सकती है लेकिन शहर के बीच ही स्‍कूल और धार्मिक स्‍थल के निकट शराब की दुकान खुलने से स्‍थानीय व्‍यापारियों और स्‍कूलों के प्रधानाचार्यों में रोष है।  स्‍थानीय व्‍यापारियों और स्‍कूल की प्रधानाचार्य ने डीएम को भेजे गए पत्र में स्‍कूल और मन्दिर के पास खुली शराब की दुकान को बंद कर किसी और स्‍थान पर स्‍थानांतरित करने की मांग की है।

Bansal Saree

डीएम नीतीश कुमार को भेजे ज्ञापन में क्षेत्रवासियों ने आरोप लगाया है कि नियमों के विरूद्ध देशी शराब की भट्टी कैंटीन सहित खुल गई है। जिससे वहां अराजकता का माहौल उत्पन्न हो रहा है। लोग शराब पीकर गाली गलौज करते हैं एवं कॉलेज आने वाली छात्राओं एवं शिक्षिकाओं के साथ भी अभद्रता की जाती है। इस कारण मोहल्ले एवं बाजार का माहौल लगातार खराब होता जा रहा है। यहां आए दिन झगड़ा फसाद होने लगा है जिससे बड़ी घटना घटित हो सकती है।

ज्ञापन के माध्‍यम से क्षेत्रवासियों ने स्कूल एवं धार्मिक माहौल को बचाने एवं छात्राओं के भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए इस शराब  भट्टी  को तत्काल हटाने की मांग की है। विरोध करने वालों में साहू गोपीनाथ कन्या इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य आकांक्षा सक्सेना एवं स्‍थानीय निवासी अहमद अली खान के अलावा समस्त क्षेत्रवासियों के साथ सैफी ,नसीम खान ,बल्लू ,मोहम्मद फैजल आदि लोग उपस्थित रहे।