बागपत: रिश्‍तेदार ने कहा- नौकरों की तरह काम लेते थे पूर्व मंत्री, बेइज्‍जती बर्दाश्‍त नहीं हुयी इसीलिए मार डाला

बीती 9 सितंबर को घर में घुसकर कर दी गयी थी पूर्व मंत्री डा आत्‍माराम तोमर की हत्‍या, हत्‍यारोपी समधी गिरफ़्तार  

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के बागपत में रिश्‍तेदार ने ही पूर्व मंत्री की घर में घुसकर हत्‍या की थी। पुलिस की तफ़्तीश में ये खुलासा किया गया है। गौरतलब है कि पिछले दिनों बागपत में पूर्व मंत्री डा आत्‍माराम तोमर की घर में घुसकर हत्‍या कर दी थी। पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुए पूर्व मंत्री के समधी के भाई को गिरफ़्तार किया गया है। हत्‍यारोपी ने पुलिस को बताया कि वे पूर्व मंत्री के रिश्‍तेदार हैं लेकिन पूर्व मंत्री उनसे नौकरों जैसा व्‍यवहार करते थे इसी बात से वह खफा हो गया था और इससे क्षुब्‍ध होकर उसने पूर्व मंत्री की हत्‍या कर डाली। हत्‍यारोपी उनकी ही गैस एजेंसी में काम करता था। मामले का खुलासा एसपी नीरज कुमार जादौन ने किया है। हत्यारोपियों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने हत्यारोपियों के कब्जे से स्कार्पियो कार व डॉ. आत्माराम का मोबाइल फोन भी बरामद किया है।

Bansal Saree

9 सितंबर को हुयी थी हत्‍या

भाजपा नेता और पूर्व राज्यमंत्री डॉ. आत्माराम तोमर की 9 सितंबर को हत्या कर दी गई थी। हत्यारे उनकी स्कॉर्पियो और मोबाइल फोन लूट ले गए थे। तोमर के मेरठ में रहने वाले बेटे डॉ. प्रताप सिंह काफी देर से उनको फोन लगा रहे थे। बार-बार ट्राई करने के बाद भी कॉल रिसीव नहीं किया तो उनको अनहोनी की आशंका हुई। डॉ. प्रताप ने पुलिस को फोन किया। पुलिस पहुंची तो आत्माराम का शव बेड पर पड़ा मिला। सिर पर चोट के निशान थे। गले में तौलिया पड़ा था।

डॉ. प्रताप की तहरीर पर पुलिस ने प्रवीण पुत्र मेघराज और उसके दोस्त बलराम पर FIR दर्ज की थी। डॉ. प्रताप ने पुलिस को बताया था कि उनकी गैस एजेंसी पर प्रवीण काम करता था। उनके पिता ने खराब चाल चलन के कारण प्रवीण को निकाल दिया था। कुछ दिन पहले उसको दोबारा काम पर रख लिया था, लेकिन वह खुश नहीं था।

Devi Maa Dental

सीसीटीवी फुटेज से पकड़े गए हत्‍यारे

CCTV फुटेज में प्रवीण और बलराम बाइक के साथ भाजपा नेता के घर के बाहर खड़े देखे गए थे। हत्या वाले दिन गुरुवार शाम 6:42 बजे दोनों बदमाश घर के अंदर बाइक लेकर जाते हैं। फिर करीब 45 मिनट बाद घर से बाहर स्कॉर्पियो निकलती है। कुछ ही देर बाद बाइक पर दूसरा बदमाश निकलता है। घर के बाहर बाइक रोककर गेट को बंद कर लॉक करता है और फिर फरार हो जाता है। पुलिस को बड़ौत क्षेत्र के ट्योढी गांव के पास भाजपा नेता की स्कॉर्पियों कार मिली थी।