अलीगढ़: प्रधानी के वोटरों को बांट रहा था रसगुल्‍ले, पुलिस मुंह मीठा करने पहुंची तो भाग खड़ा हुआ प्रत्‍याशी

प्रत्‍याशी का स्‍वाद बिगाड़ पुलिस गाड़ी समेत जब्‍त कर ले गयी रसगुल्‍ले 
 | 
एक एक वोटर को मिल रहे थे 10-10  रसगुल्‍ले 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। प्रधानी के चुनाव में वोट पाने के लिए प्रत्‍याशी ना जानें क्‍या क्‍या कर रहे हैं। या यूं कहें कि क्‍या नहीं कर रहे हैं। ताजा मामला यूपी के अलीगढ़ जिले का है, यहां वोटरों को रसगुल्‍ले बांट रहे प्रत्‍याशी के तब दांत खट्टे हो गए जब पुलिस मौके पर पहुंच गयी। पुलिस को देखकर वोटरों को रसगुल्‍ले बांट रहा प्रधान प्रत्‍याशी समर्थकों समेत भाग खड़ा हुआ। रसगुल्‍ले और रसगुल्‍ले से भरी गाड़ी भी प्रत्‍याशी मौके पर ही छोड़कर भाग गया। सारे रसगुल्‍लों और गाड़ी को पुलिस ने जब्‍त कर लिया है।

Devi Maa Dental

प्रधान प्रत्‍याशी पर अब आदर्श आचार संहिता उल्‍लंघन के तहत मामला दर्ज किया जा रहा है। कोतवाली क्षेत्र के गांव रायपुर इमलिया में वोटरों को अपने पक्ष में करने के लिए एक प्रधान पद का दावेदार अपने समर्थकों के साथ मिठाई बांट रहा था। पुलिस के पहुंचने पर गाड़ी व मिठाई छोड़कर भाग गया। पुलिस ने गाड़ी व रसगुल्ले कब्जे में लिए हैं। आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

कार चालक भी फरार

Bansal Saree

सीओ मोहसीन खान ने बताया कि मध्य रात्रि को सूचना मिली थी कि क्षेत्र के गांव रायतपुर इमलिया में एक प्रधान पद का दावेदार मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए गाड़ी में मिठाई भरकर समर्थकों के साथ बांट रहा है।

सूचना पर एसआइ सत्यवीर सिंह पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे तो प्रधान पद का दावेदार जयवीर सिंह निवासी इमलिया अपने 10-15 समर्थकों के साथ मिठाई बांट रहा था। पुलिस को देखकर सभी मौके से गाड़ी को छोड़कर भाग गए। कार चालक को तलाश किया। वह भी नहीं मिला।

पैक हैं 10-10 रसगुल्‍ले

UP 13 BP 1229 इको स्टार कार तेजवीर सिंह पुत्र बलवीर सिंह निवासी खारोली थाना अरनिया जनपद बुलन्दशहर के नाम है। कार में आधा किलो के 123 डिब्बे मिले। सभी डब्बों में पालीथीन में पैक 10-10 रसगुल्ले थे। सीओ ने बताया कि मिठाई से कोरोना जैसी महामारी भी फेल सकती है। गाड़ी को कब्जे में लेकर सीज किया गया है। इस सम्बंध में प्रधान पद के दावेदार जगवीर सिंह, 10-15 अज्ञात कार्यकर्ता व कार चालक के विरुद्ध धारा 144, महामारी अधिनियम, चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है।