आगरा: 16 जून से फिर होंगे ताजमहल के दीदार, एक बार में सौ पर्यटकों को ही जाने दिया जाएगा

कोरोना के कड़े नियम लागू होंगे इनका पालन करना होगा

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना संक्रमण से राहत के बाद एक बार फिर ताजमहल पर्यटकों के लिए 16 जून से खोल दिया जाएगा। लाकडाउन के बाद ताजमहल कुछ बदला सा नजर आएगा। पुरातत्‍व विभाग की देख रेख में ताजमहल में मरम्‍मत करायी जा रही है। बताया जा रहा है कि नए प्रोटोकाल के तहत ताज के भीतर एक बार में सौ पर्यटकों को ही प्रवेश मिल सकेगा इस दौरान पर्यटकों को पूरी तरह से कोरोना नियमों का पालन करना होगा1 एएसआई से अनुमति मिलने के बाद ताज को दीदार के लिए खोल दिया जाएगा।

Devi Maa Dental

कोरोना महामारी के चलते बीते साल ताजमहल 17 मार्च से 188 दिन तक बंद रहा था। इस साल 2021 में 60 दिन से बंद है। 15 अप्रैल से 15 जून तक ताजमहल को पर्यटन के लिए बंद करने के आदेश दिए गए थे। जिसकी मियाद मंगलवार को पूरी हो रही है। इसलिए 16 जून बुधवार से ताजमहल खुलने की संभावना है। इसको लेकर पर्यटकों के लिए नई कोविड गाइडलाइन तैयार की जा रही है। हालांकि, जिम्मेदार अभी बोलने से बच रहे हैं। अधीक्षण पुरातत्वविद बसंत कुमार स्वर्णकार के अनुसार अभी कोई अग्रिम आदेश जारी नहीं हुआ है। पर्यटकों के लिए ताजमहल खोलने को लेकर हमारी तैयारियां पूरी हैं। आदेश मिलते ही ताजमहल अनलॉक कर दिया जाएगा।

ताजमहल की मड पैकिंग की गई थी। मड पैकिंग के बाद बारिश होने से इमारत की धुलाई हो गई है। ऐसे में ताजमहल का संगमरमर और अधिक दूधिया नजर आ रहा है। आने वाले दिनों में मौसम विभाग के मुताबिक बारिश होने की संभावना है। इस कारण यमुना में पानी लबालब होने से ताजमहल की खूबसूरती और अधिक बढ़ जाएगी। ताजमहल का वाटर टैंक साफ किया गया है। अब पर्यटकों को पानी में अपना अक्स साफ नजर आएगा। ताजमहल परिसर में दीवारों की पच्चीकारी और टूटे पत्थरों की लगातार मरम्मत की जा रही है। अंदर की बागवानी को विशेष तौर पर सजाया गया हैं।

Bansal Saree

एक शिफ्ट में 100 पर्यटक जाएंगे

कोविड काल में ताजमहल अनलॉक होने पर पर्यटकों को शिफ्ट में एंट्री मिलेगी। पर्यटकों को ऑनलाइन टिकट बुक करना होगा। एक शिफ्ट में 100 पर्यटकों को अंदर भेजा जाएगा। साथ ही इन पर्यटकों को निर्धारित समय में बाहर निकलना होगा। एक शिफ्ट के लोगों के बाहर आने के बाद दूसरी शिफ्ट के लोगों को प्रवेश मिलेगा। इमारत की पूर्वी और पश्चिमी गेटों पर हाथ और जूते सैनिटाइजिंग करने की व्यवस्था रहेगी। सैनिटाइजेशन के बाद ही पर्यटकों को प्रवेश मिल सकेगा। मास्क के बिना पर्यटक अंदर नहीं जा सकेंगे। ताजमहल गेट के बाहर पर्यटकों की भीड़ पर रोक लगेगी।