आगरा: सेना के हाथ आते ही आठ घंटों में चालू हो गया महीनों से बंद पड़ा आक्‍सीजन प्‍लांट

कोरोना की लड़ाई में भगवान बनकर उतरे इंडियन आर्मी के सैनिक

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कोरोना से लड़ाई में अब इंडियन आर्मी ने भी सीना तान दिया है। आर्मी ने यूपी के आगरा जिले में बंद पड़े आक्‍सीजन प्‍लांट को रातों रात चालू कर दिया। इसके लिए थल सेना और वायु सेना के जवान आगे आए हैं। सेना के इस कदम से ताजनगरी आगरा को काफी राहत मिलेगी। अभी आगरा आक्‍सीजन की कमी से जूझ रहा है। एक बार ट्रायल पूरा होने के बाद बहुत जल्‍द इस प्‍लांट से आक्‍सीजन सप्‍लाई भी होने लगेगी। इस प्‍लांट में हवा से ही आक्‍सीजन बनायी जाएगी प्रतिदिन 16 सौ सिलेण्‍डर आक्‍सीजन यहां रोज रिफिल किए जा सकेंगे। ।

Devi Maa Dental

जलेसर रोड स्थित अग्रवाल गैस प्लांट ट्रायल के बाद बंद पड़ा हुआ था। जब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन की किल्लत शुरू हुई तो वैकल्पिक व्यवस्थाओं पर नजर दौड़ाई गई। जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह ने गैस प्लांट का निरीक्षण किया। इसके बाद इसकी शुरुआत करने के लिए आर्मी और एयरफोर्स से मदद मांगी। गैस प्लांट के कंप्रेशर और जरूरी उपकरण को बुधवार की रात 11 बजे विशेष विमान से अहमदाबाद से आगरा लाया गया। प्लांट की कुछ कमियों को दूर करने के लिए आगरा आर्मी टू पैरा और 50 पैरा के इंजीनियर देर रात तक जुटे रहे। सुबह प्लांट को चालू कर दिया गया है।

जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह ने बताया कि इस ऑक्सीजन प्लांट के शुरू होने से आगरा में ऑक्सीजन से राहत मिल सकती है। सालों से बंद पड़े अग्रवाल गैस प्लांट को शुरुआत करने के लिए आर्मी और एयर फोर्स ने मोर्चा संभाल कर प्लांट को सुबह तक चालू कर दिया है। यह जिले का दूसरा प्लांट है जो कि एयर से ऑक्सीजन तैयार करेगा।

Bansal Saree

बिना लिक्विड के शुरू हो जाएगा प्रोडक्‍शन

कंपनी के इंजीनियर का कहना है इस प्लांट में लिक्विड की आवश्यकता नहीं होगी। इस प्लांट में हवा से ऑक्सीजन तैयार होगी। वहीं, ऑक्सीजन प्लांट के मालिक के अनुसार प्लांट का मकसद इंडस्ट्रियल एरिया में सप्लाई के लिए किया गया था। मगर अब कोरोना संकटकाल में इसकी आवश्यकता मेडिकल क्षेत्र में महसूस की गई तो इसे प्रशासन के सहयोग से शुरू किया गया है जो आगरा की ऑक्सीजन की कमी को दूर करेगा।