फिर खाकी की हरकत से हो रही महकमे की किरकिरी: लखनऊ में दवा लेने जा रहे युवक को बेवजह पीटने का आरोप

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा युवक की पुलिस पिटायी का वीडियो

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी पुलिस के कुछ जवानों की हरकतों से खाकी पर दाग लगना आम बात हो गयी है। लाकडाउन में दवाई लेने जा रहे युवक को पुलिस ने पकड़कर धुन डाला। नागरिकों ने पुलिस पर बेवजह युवक से मारपीट करते हुए जबर्दस्‍त हंगामा काटा। मामला यूपी की राजधानी लखनऊ का है यहां कृष्‍णानगर इलाके में लाकडाउन के समय एक युवक दवा लेने के लिए निकला था। रास्‍ते में पुलिस चेकिंग कर रही थी। आरोप है कि वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने चेकिंग के नाम पर युवक की जमकर पिटायी लगा दी। इस दौरान युवक की जेब में रखे रूपए भी गायब हो गए। पुलिस पिटायी की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गयी। जिसके बाद वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया। सोशल मीडिया पर पुलिस की किरकिरी होने के बाद एडीसीपी मध्‍य चिरंजीव सिन्‍हा ने पूरे मामले की जांच एसीपी कृष्‍णानगर को सौंपी है और जल्‍द रिपोर्ट देने को कहा है।

Devi Maa Dental

लखनऊ के आलमबाग निवासी शेखर गुप्ता ने बताया कि 12 मई की रात कार से भाई की दवा लेने के लिए मेडिकल कॉलेज के लिए निकले थे। रास्ते में कार खराब होने पर दोस्त को फोन करके बुलाया और कार ठीक कर रहे थे। इसी बीच कृष्णा नगर थाने के पुलिस कर्मी आए और उसकी व उसके दोस्त की तलाशी लेने लगे।

शिखर ने दवा लेने के लिए मेडिकल कॉलेज जाने की बात कही लेकिन वह नहीं माने। इसी बीच मोबाइल पर कॉल आने पर बात करने लगा। इस पर पुलिसकर्मी पीटने लगे। यह घटना पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। शिखर का आरोप है कि पुलिस की मारपीट में उसे गम्भीर चोट आईं। साथ ही इस दौरान उसके पैसे भी गायब हो गए। इसकी शिकायत पुलिस थाने के साथ अधिकारियों से की लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

Bansal Saree

दूसरी तरफ उन्‍नाव में पुलिस की मारपीट से सब्जी विक्रेता की मौत के बाद हंगामा और शिखर के साथ मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद देर रात हरकत में आई पुलिस ने मामले की जांच कृष्णा नगर एसीपी को सौंप दी है। एडीसीपी मध्य चिरंजीवी सिन्हा का कहना है कि जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।