तूफान के बाद कहर: यूपी के दर्जनों जिलों में रात से लगातार बारिश अब भी जारी, फसलों को भारी नुकसान, जनहानि भी हुयी

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। तूफान ताऊ ते के गुजरने के बाद अब यूपी के कई जिलों में बुधवार से लगातार बारिश जारी है। प्रदेश के कई जिलों में हो रही लगातार बारिश से हादसे भी हो रहे हैं। जहां शामली में मकान की छत गिरने से चार लोगों की मौत हो गयी वहीं प्रदेश के अन्‍य हिस्‍सों से भी बारिश से नुकसान की खबरें आ रही हैं। उधर चौबीस घंटे से हो रही लगातार बारिश से फसलों को भी नुकसान की भारी आशंका जतायी गयी है। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि आज लखनऊ समेत प्रदेश के 28 जिलों में बिजली चमकने के साथ 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी और बरसात होगी। अगले 3 से 4 दिन तक उत्तर प्रदेश में इसी तरीके का मौसम बना रहेगा।

Devi Maa Dental

मौसम विभाग के द्वारा आज बिजनौर, मुरादाबाद, अमरोहा, संभल, बदायूं, कासगंज, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अयोध्या, अमेठी, सुल्तानपुर, जौनपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, गोरखपुर, संत कबीर नगर, महाराजगंज, कुशीनगर, लखनऊ समेत 28 जिलों में अलर्ट जारी किया गया है।

छह की मौत हो गयी

Bansal Saree

प्रदेश के शामली जनपद में बारिश की वजह से एक घर की छत ढह गई, जिसकी वजह से एक ही परिवार के तीन बच्चे और मां की मौत हो गई। उधर सुल्तानपुर में बीती रात से हो रही बारिश के चलते छप्पर गिर गया। इस हादसे में घायल युवक की जिला अस्पताल में मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिजनो में कोहराम मचा गया। घटना कूरेभार थानाक्षेत्र के सेउर गांव गौरिया का टोला की है। वाराणसी में भी बुधवार देर रात से हो रही बारिश की वजह से कैंट थाना क्षेत्र के फूलवारिया इलाके में एक मकान गिर गया। इस हादसे में पांच लोग घायल हो गए, जिनमें से दो की हालत गंभीर बानी हुई है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश सहित एनसीआर के कई जिलों में आज 20-25 मिमी बारिश की संभावना है। बुधवार को शाम तक मेरठ में 14 मिलीमीटर बारिश हो चुकी थी। यहां सामान्य तापमाान 24.8 डिग्री तक पहुंच गया है। जेठ, बैसाख की गर्मी सबसे बुरी मानी जाती है, मगर पिछले दो दिनों से बदले मौसम ने बैसाख में भादों का अहसास करा दिया है। लोग सारा दिन घर में बंद रहे। रात का तापमान गिरने के कारण पंखे भी बंद कर दिए।

बुधवार सुबह से देर रात हुई बारिश से शहर में जगह जगह जलभराव हो गया। नगर के रतन छतरी निवासी मनोज तोमर बुधवार की शाम अपनी पत्नी, चार बच्चों व दो भाभियों के साथ खेत से घर लौट रहा था। घर के समीप मनोज ने जैसे ही अपनी भैंसा बुग्गी रोकी, तभी बारिश के कारण सड़क पर फैले करंट की चपेट में उसका भैंसा आ गया। इससे उसकी मौत हो गई। अचानक भैंसे के गिरने से मनोज भी हड़बड़ा गया और जैसे ही बुग्गी से नीचे कूदा वह भी करंट की चपेट में आ गया। लोगों ने किसी तरह मनोज व उसके परिजनों को बचा कर सुरक्षित निकाला।