यूपी के इन 13 शहरों की एसटीपी के लिए योगी आदित्यनाथ ने किया 63 करोड़ रूपए खर्च करने का ऐलान...

 | 

न्यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के 13 शहरों में 28 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के संचालन रख-रखाव के लिए 63 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। जल निगम को 11 करोड़ बिजली के मद में अलग से दिया जाएगा। लखनऊ के दो नए पंपिंग स्टेशनों के सुधार के लिए एक करोड़ रुपये मंजूर हुआ है।

krishna hospital

उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपने दूसरे कार्यकाल में शुरुआत से ही एक्‍शन में नजर आ रही है। प्रदेश सरकार ने 13 शहरों के 28 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) के संचालन एवं रख-रखाव के लिए 63 करोड़ रुपये मंजूर कर दिए हैं। यह धनराशि जल निगम को दी जाएगी।

"इसके अलावा जल निगम को 11 करोड़ बिजली के मद में अलग से दिए जा रहे हैं। लखनऊ के दो नए पंप‍िंग स्टेशनों के सुधार कार्य के लिए भी एक करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव अमृत अभिजात की अध्यक्षता में गठित समिति की बैठक में बुधवार को यह फैसला लिया गया।

chaitanya

"एसटीपी के रखरखाव व संचालन के लिए जो धनराशि दी जाएगी उनसे लखनऊ, आगरा, गोरखपुर, अयोध्या, गाजियाबाद, सहारनपुर, मेरठ, अनूपशहर, लोनी, पिलखुवा, मुजफ्फरनगर, रामपुर और बिजनौर में काम होगा। इस रकम से इन 13 शहरों के 5600 किलोमीटर लंबी सीवर लाइन और 82 पंप‍िंग स्टेशनों का भी रख रखाव किया जाएगा।

"जल निगम को जो 63 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं उनमें 24.50 करोड़ लखनऊ के लिए, गाजियाबाद के लिए 26.25 करोड़, गोरखपुर के लिए 1.75 करोड़ व आगरा के लिए 2.50 करोड़ रुपये शामिल हैं। इसके अलावा एसटीपी व सीवर लाइनों के सुधार के लिए लखनऊ को 10 करोड़ व गाजियाबाद को 1.25 करोड़ रुपये दिए गए हैं। 

गाजियाबाद के एसटीपी के बिजली संबंधी कार्यों के लिए 1.50 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। बैठक में जल निगम के निदेशक अनिल कुमार, निदेशक स्थानीय निकाय नेहा शर्मा, जल निगम के मुख्य अभियंता व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य समेत कई अन्य अधिकारी मौजूद थे।