जानिए, इस हर्बल रेड टी के फायदे, कई बीमारियों में है रामबाण, कैसे बनाएं, यहां जानिए...

 | 

न्यूज टुडे नेटवर्क। आजकल लोग हेल्दी और फिट रहने के लिए हर्बल चाय का सेवन करते हैं। हिबिस्कस टी यानी गुड़हल की चाय भी बेहद फायदेमंद होती है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जो शरीर में जमा विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद एंटी इंफ्लामेटरी और एंटी ऑक्सीडेंट गुण शरीर को तंदुरुस्त रखने में मदद करते हैं। इसमें कैंसर से लड़ने के गुण भी मौजूद होता है। हिबिस्कस टी का सेवन करने से हाई बीपी, डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके अलावा यह चाय मोटापा कम करने में भी कारगर है। यह शरीर में फैट को जमा होने से रोकती है, जिससे शरीर की चर्बी घटती है।

krishna hospital

हिबिस्कस टी को गुड़हल की सूखी पंखुड़ियों से तैयार किया जाता है। इसका मीठा और तीखा स्वाद क्रैनबेरी की तरह होता है। कई अध्ययनों में पाया गया है कि रोजाना दो से तीन बार गुड़हल की चाय पीने से मोटापा कम करने और करे गंभीर बीमारियों को रोकने में मदद मिलती है। तो आइए जानते हैं हिबिस्कस टी बनाने की विधि-

हिबिस्कस टी बनाने की सामग्री 

2 कप पानी

4-5 गुड़हल के फूल

1 चम्मच शहद 

1 चम्मच नींबू का रस

हिबिस्कस टी बनाने की विधि 

सबसे पहले एक बर्तन में दो कप पानी उबाल लें। अब इसमें दो चम्मच सूखे हिबिस्कस की पंखुड़ियां डालें। अब बर्तन को एक ढक्कन से कवर कर दें और इसे 4-5 मिनट के लिए पकने दें। इसके बाद चाय को कप में छान लें और इसमें नींबू का रस और शहद मिलाएं।आपकी हिबिस्कस टी तैयार है।

chaitanya