यूपी: पंचायत चुनावों की तैयारियों को लेकर निर्वाचन आयोग से प्रशासनिक अमलों को क्या मिले निर्देश, देखें यह खबर…

न्यूज टुडे नेटवर्क। पंचायत चुनाव कराने के लिए अब निर्वाचन आयोग की तैयारियां तेज हो गई हैं। प्रशासनिक तैयारियों को दुरूस्त करने के क्रम में आला अफसरों की बैठकों का दौर भी शुरू हो चुका है। तमाम जिलों में सीधे निर्वाचन आयोग चुनाव सम्पन्न कराने को लेकर हालातों की समीक्षा कर रहा है। हाल ही
 | 
यूपी: पंचायत चुनावों की तैयारियों को लेकर निर्वाचन आयोग से प्रशासनिक अमलों को क्या मिले निर्देश, देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पंचायत चुनाव कराने के लिए अब निर्वाचन आयोग की तैयारियां तेज हो गई हैं। प्रशासनिक तैयारियों को दुरूस्‍त करने के क्रम में आला अफसरों की बैठकों का दौर भी शुरू हो चुका है। तमाम जिलों में सीधे निर्वाचन आयोग चुनाव सम्‍पन्‍न कराने को लेकर हालातों की समीक्षा कर रहा है।

Bansal Saree

हाल ही में जिलों में मतपत्र भेजने की प्रक्रिया तेज की गई है। वोटर लिस्‍टों के प्रकाशन से लेकर अन्‍य तैयारियों पर अफसरों जुटा दिया गया है।

निर्वाचन आयोग ने प्रदेश भर के प्रशासनिक अमलों को निर्देष जारी कर दिए हैं।मतदान केन्‍द्रों की स्‍थिति का ब्‍यौरा भी मांगा गया है। इसके साथ ही कौन से मतदान केन्‍द्र संवेदनशील, अतिसंवेदनशील आदि की श्रेणी में आ रहे हैं इसका भी पूरा ब्‍यौरा तैयार रखने को कहा गया है।

पंचायत चुनावों के दौरान कानून व्‍यवस्‍था दुरूस्‍त रखने के लिए पुलिस महकमे के अफसरों को सचेत किया गया है। गांव गांव में बूथवार कानून व्‍यवस्‍था का जिम्‍मा संभालने के लिए अभी से तैयारियों के निर्देष मिले हैं।

उधर पंचायत चुनाव को संपन्न कराने के लिए वोटर लिस्ट तैयार कराने की कवायद तेज हो गई है। वोटर लिस्ट की पाण्डुलिपियां तहसीलों से ग्राम पंचायत वार तैयार होकर निर्वाचन कार्यालय में आने लगी हैं। निर्वाचन से जुड़े प्रदेश स्‍तर के एक अधिकारी ने बताया कि जो वोटर लिस्ट जिलों में आ गई हैं उनकी फीडिंग चालू कर दी गई है। वोटर लिस्ट की प्रिटिंग वेंडर के माध्यम से ठेके पर कराई जाएगी।

Devi Maa

विधानसभा चुनाव की वोटर लिस्ट का प्रकाशन कर दिया गया है। 17 नवंबर से डोर टू डोर बीएलओ के पहुंचने की कवायद शुरू हुई है, जो 15 दिसंबर तक जारी रहेगा। सूची में जिनके नाम वोटर लिस्ट में छूट गए हैं या अंकित नहीं हैं वे कागजी औपचारिकताएं पूरी करके इसमें शामिल हो सकते हैं। वहीं 18 साल की आयु पूरी कर चुके युवा मतदाता भी अपना नाम बीएलओ से मिलकर शामिल करा सकते हैं।

बीएलओ फार्म 6, 7 व 8 पर संशोधन नाम जोड़ने आदि की कार्यवाही करेंगे। इसके अलावा 4 विशेष दिवस निर्धारित हैं। इस दिन बीएलओ मतदान केंद्र पर मतदाता सूची लेकर बैठेंगे। उनके पास सारे फार्म उपलब्ध रहेंगे। मतदाता सूची भी मौजूद रहेगी। लोग वहां जाकर वोटर लिस्ट देख सकते हैं। यदि नाम गलत है या शामिल नहीं है तो फार्म भरकर वोटर बन सकते हैं।