उत्तराखंड -  जानिए सेहत के लिए कितना जरुरी हैं विटामिन C

 | 

विटामिन सी में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो आपकी हड्डियों, मांसपेशियों और रक्त वाहिकाओं को दुरुस्त रखता है। इसके अलावा यह शरीर में आयरन के अवशोषण में मदद पहुंचाने और कोलेजन बनाने में भी सहायता करता है।यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए भी फायदेमंद होता है। विटामिन सी शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक होता है, लेकिन शायद आपको इसकी जानकारी नहीं होगी कि विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा से शरीर को क्या-क्या फायदे होते हैं। आज हम आपको बताएँगे विटामिन C के भरपूर फायदे :

Devi Maa Dental

उच्च रक्तचाप को कम करना 

वर्तमान में कई लोग उच्च रक्तचाप की समस्या से ग्रस्त हैं। एक शोध के अनुसार विटामिन सी उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है।

हड्डियों को मजबूत बनाता है जोड़ों का दर्द 

विटामिन सी हड्डियों को स्वस्थ रखने का काम करता है। इसकी पर्याप्त मात्रा हड्डी से जुड़े विकारों को सही कर उसे मजबूती देता है। आप हड्डी से संबंधित बीमारी की स्थिति में चिकित्सक से परामर्श लेकर विटामिन सी का सेवन कर सकते हैं।

Bansal Saree

कैंसर से बचाव

विटामिन-सी एक बेहतरीन एंटी ऑक्सीडेंट है जो कैंसर और अन्य बीमारियां पैदा करने वाली फ्री रेडिकल्स से बचाता है। इसके अलावा यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कैंसर से लड़ने में भी मददगार साबित होता है। वहीं कोशिकाओं और डीएनए में होने वाले उस परिवर्तन से भी बचाव करता है तो कैंसर पैदा कर सकता है

अस्थमा 

विटामिन सी, शरीर में अस्थमा के लिए जिम्मेदार हिस्टामाइन के उत्पादन को कम करता है जिससे अस्थमा व सांस संबंधी समस्या की संभावना कम हो जाती है्। विटामिन सी के एंटी- ऑक्सीडेंट तत्व आपके फेफड़ों की सफाई करने में भी अहम भूमिका निभाते हैं।

जल्द भरते हैं घाव 

विटामिन सी के अंदर एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो शरीर में होने वाले घाव, जख्म या चोट को जल्द ठीक करने का काम करते हैं

तनाव

विटामिन सी  न केवल आपके दिमाग को स्वस्थ रखती है बल्कि यह स्ट्रेस फाइटिंग एड्रिनेलिन का स्त्राव कर आपको तनाव से राहत देने का काम भी करता है।

एलर्जी

विटामिन सी में मौजूद एंटी हिस्टामाइन तत्व एलर्जी से बचाव कर उसके लक्षणों से भी निजात दिलाते हैं। सामान्य सर्दी में भी विटामिन सी का प्रयोग कर शरीर को स्वस्थ बनाए रखा जा सकता है।

जोड़ों का दर्द 

जोड़ों में कोलेजन और काटिर्लेज के क्षतिग्रस्त होने, उम्र के बढ़ने या फिर किसी इंफेक्शन के कारण पर जोड़ों में दर्द की समस्या आती है। विटामिन सी, जोड़ों के लिए कोलेजन नामक प्रोटीन का निर्माण करता है जो दर्द से राहत में मददगार है।