हरिद्वार- उतराखंड के इस जिले मे छिपा हैं सुशील कुमार के क्राईम का पूरा राज़, अब ऐसे होगा खुलासा

 | 

नई दिल्ली के छात्रसाल स्टेडियम में हुआ पहलवान सागर राणा की हत्या के मामले में गिरफ्तार हुए सुशील कुमार को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम हरिद्वार लेकर आने की तैयारी मे हैं। बताया जा रहा हैं कि वारदात के बाद सुशील दिल्ली से भागकर हरिद्वार पहुंचा था। पुलिस को शक है कि सुशील ने अपना फोन यहीं पर ठिकाने लगाया है। इसके अलावा और भी कई सबूतों की तलाश में सुशील कुमार को हरिद्वार ले जाया जा रहा है। 

Devi Maa Dental

इधर चर्चा है कि सुशील कुमार ने अपराध के बाद एक आश्रम में शरण ली थी। यहीं से उसने अलग —अलग पांच नंबरों से इधर उधर फोन भी किए थे। अब पुलिस इन पांच नंबरों के मालिकों की तलाश में भी लगी है। लाइव हिंदुस्तान.काम की खबर के अनुसार दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि क्राइम ब्रांच की टीम पहलवान सुशील कुमार को उत्तराखंड के हरिद्वार ले जा रही है, जहां वह छत्रसाल स्टेडियम में 23 वर्षीय सागर राणा की हत्या के मामले में कथित रूप से छुपा हुआ था। उन्होंने बताया कि पुलिस वहां से उसका मोबाइल फोन भी बरामद करने की कोशिश की जाएगी।

5 लोगों ने की थी मदद

Bansal Saree

वारदात के बाद पहलवान सुशील कुमार के फरार होने के दौरान पांच लोगों ने उसकी मदद की थी। यही नहीं, पुलिस से बचने के लिए सुशील ने अपना फोन वारदात के अगले दिन ही नष्ट कर दिया था, जिसके बाद उसने पांच अलग-अलग फोन का भी इस्तेमाल किया था। पुलिस अब सुशील के इन पांच मददगारों की तलाश में जुटी है। 

क्या हैं पूरा मामला

मामले की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच जहां एक तरफ पहलवान सागर की हत्या के दौरान छत्रसाल स्टेडियम में मौजूद रहे सुशील के अन्य फरार साथियों को ढूंढ रही है, वहीं दूसरी तरफ उसे इन पांच मददगारों की भी तलाश है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। इस वक्त पुलिस की पैनी नजर सुशील पहलवान और अजय को शरण देने वालों पर है।