हल्द्वानी- इस अस्पताल में देखते ही देखते इसलिए मच गया बवाल, जाने क्यों हुई जमकर तोड़फोड़

 | 

हल्द्वानी के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान हुई महिला की मौत के बाद बवाल मच गया। देखते ही देखते ही महिला के गुस्साएं परिजनों ने अस्पताल में तोड़फोड़ शुरू कर दी। बात इतनी बड़ गई कि परिवारवालों को शांत कराने खुद नैनीताल जिले की एसएसपी प्रीति प्रियर्दिशनी मौके पर पहुंची। जिसके बाद आक्रोशित भीड़ किसी तरह शांत हुई। पूरे मामले में एक आरोपी को हिरासत में भी लिया गया है। 

Devi Maa Dental

पति ने साथियों संग मिलकर की तोड़फोड़

जानकारी मुताबिक गौजाजाली उत्तर हिमालया स्कूल के पास रहने वाली 26 वर्षीय आसमा पत्नी राशिद को बीती 2 मई को रामपुर रोड स्थित निजी अस्पताल भर्ती कराया गया था। जहां आज उसकी मौत हो गई। महिला की मौत की सूचना जब अस्पताल प्रबंधन ने परिजनों को दी तो वह गुस्से में आ गए। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन पर उपचार में लापरवाही का आरोप लगाया। इस बीच मृतका के पति ने अपने साथियों के साथ अस्पताल में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसकी सूचना पर एसएसपी प्रीति प्रियर्दिशनी, एसपीसिटी डॉ जगदीश चन्द्र, सीओ शांतनु पारासर, कोतवाल मनोज रतूड़ी अस्पताल पहुंचे और आक्रोशित लोगों को शांत कराया। वही एक आरोपी को हिरासत में ले लिया।

Bansal Saree

पीलिया बिगड़ने के चलते हुई मौत

अस्पताल के एमडी डॉ गौरव सिंघल ने एसएसपी को बताया कि महिला का पीलिया बिगड़ चुका था। चिकित्सकों ने उसे बचाने का काफी प्रयास किया। लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। उनका कहना था कि मरीज की हालत बिगड़ने की सूचना पूर्व में भी परिजनों को दी जा चुकी थी। लेकिन मरीज की मौत के बाद उनके साथ भी मारपीट का प्रयास किया गया। तीमारदार दरवाजे का लॉक तोड़कर केबिन में घुसे। अस्पताल स्टाफ ने किसी तरह उन्हें रोका। इधर एसएसपी का कहना है कि अस्पताल में तोड़फोड़ करने वालों को चिन्हित करने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस अस्पताल परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार पर तोड़फोड़ करने वालों को चिन्हित कर रही है। उनका कहना है कि इस मामले में कार्यवाही के लिए अस्पताल प्रबंधन की तहरीर का इंतजार किया जा रहा है।